देहरादून, जेएनएन। लेफ्टिनेंट कर्नल (सेवानिवृत्त) से एक साल पहले बीमा पॉलिसी के नाम पर हुई 24 लाख रुपये की ठगी के मामले के मुख्य आरोपित को वसंत विहार पुलिस ने कानपुर के फजलगंज इलाके से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने रविवार शाम उसे कोर्ट में पेश किया, जहां से न्यायिक अभिरक्षा में उसे जिला कारागार सुद्धोवाला भेज दिया गया। 

वसंत विहार पुलिस के अनुसार रिटायर्ड आर्मी अफसर आरके चावला निवासी जसवंतनगर, इंदिरा कॉलोनी, वसंत विहार ने अप्रैल 2018 में मुकदमा दर्ज कराया था। उनका आरोप है कि जून-जुलाई 2017 में उनके मोबाइल पर अलग-अलग नंबरों से फोन आए। 

इन लोगों ने बताया कि वह आर्मी ग्रुप इंश्योरेंस, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया दिल्ली के कर्मचारी हैं। उन्होंने पॉलिसी मेच्योर कराने और उसके बदले में अधिक पैसा दिलाने का लालच देकर उनसे अलग-अलग तिथियों में 24 लाख रुपये की रकम जमा करा ली। पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि जिन मोबाइल नंबरों से फोन किया गया था और जिन बैंक खातों में रकम ट्रांसफर कराई गई थी, वह सब फर्जी नाम-पतों पर हैं। एक्सिस बैंक कानपुर नगर, पंजाब एंड सिंध बैंक गाजियाबाद में जमा किए गए दस्तावेजों की छानबीन से पता चला कि जालसाज मूलरूप से कानपुर का रहने वाला है। लेकिन वह कानपुर से गायब था। 

पुलिस ने इस बीच कानपुर, दिल्ली, गाजियाबाद, नोएडा समेत कई स्थानों पर दबिश दी, लेकिन आरोपित का कोई सुराग नहीं लगा। इस बीच पता चला कि आरोपित इन दिनों एक शादी में शामिल होने कानपुर आया है। जिसे शनिवार को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपित की पहचान विनोद कुमार पुत्र रूप नारायण निवासी 119/132 दर्शन पूर्वा आरके नगर थाना फजलगंज, जिला कानपुर नगर, उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है। 

यह भी पढ़ें: महिलाओं के करोड़ों रुपये डकारने वाली किटी संचालिका को पुलिस ने किया गिरफ्तार

यह भी पढ़ें: एक और किटी गैंग करोड़ों रुपये डकार कर फरार, पढ़िए पूरी खबर

यह भी पढ़ें: किटी के करोड़ों रुपये डकार फरार हुई संचालिका, पुलिस ने दर्ज किया मामला

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Raksha Panthari