जागरण संवाददाता, देहरादून। दून ग्रुप ऑफ कॉलेज के नाम पर सामान लेने वाले और अमन को बाहर बेचने वाले आरोपित को कैंट कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इंस्पेक्टर विद्या भूषण नेगी ने बताया कि 13 दिसम्बर 2020 को दून ग्रुप ऑफ कालेज के निदेशक संजय कुमार चौधरी ने मामले को लेकर तहरीर दी थी। 

उन्होंन तहरीर में बताया कि उनका 28 चकराता रोड पर दून पैरामैडिकल नाम से संस्थान है। उनके संस्थान का रंगाई-पुताई आदि का सारा सामान गांधी रोड स्थित क्वालिटी हार्डवेयर ऐजेंसी से आता है। ताहिर खान नाम का व्यक्ति पहले उनके संस्थान में काम करता था। वर्ष 2016 से वो लगातार संस्थान के नाम से कूटरचित फर्जी पर्ची बनाकर क्वालिटी हार्डवेयर एजेंसी से संस्थान के नाम पर सामान खरीदता था और उस सामान को सहस्राधारा रोड स्थित माटा हार्डवेयर की दुकान के मालिक राजीव कुमार को कम दामों में बेचता था।

इस तरह से ताहिर खान और राजीव कुमार ने आपराधिक षडयंत्र के तहत 33 लाख रुपये की धोखाधड़ी की। जांच के बाद पुलिस ने ताहिर खान उर्फ सुल्तान पुत्र अब्दुल समद खान निवासी तल्ला अधोईवाला को थाना रायपुर को धारा से गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें- Food license Fraud: शातिर ने 10 दुकानदारों को लगाया चूना, बेचा एक ही फूड लाइसेंस; चढ़ा पुलिस के हत्थे

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021