देहरादून, जेएनएन। जिलाधिकारी सी रविशंकर ने राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत जिला तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ की स्टीयरिंग कमेटी की बैठक में नव निर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों को नशा मुक्ति की शपथ व प्रचार-प्रसार के निर्देश दिए।

डीएम सी रविशंकर ने कलेक्ट्रेट सभागार में तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ की स्टीयरिंग कमेटी की बैठक ली। उन्होंने चिकित्सा, पुलिस, नारकोटिक्स, आबकारी, खाद्य सुरक्षा, राष्ट्रीय अपराध ब्यूरो आदि विभागों को सम्मिलित रूप से किराना, मेडिकल स्टोर, रेस्टोरेंट, पान मसाला की दुकानों, ढाबा, हुक्का बार आदि में छापामारी करने के निर्देश दिए। ताकि तंबाकू एवं नशा सामग्री बिक्री करने वालों के खिलाफ कार्रवाई हो सके। 

उन्होंने डीपीआरओ एमजे खान को नव निर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों को शपथ ग्रहण में तंबाकू, नशा मुक्ति की शपथ दिलवाने के निर्देश दिए। डीएम ने  जिला प्रकोष्ठ की मदद से पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर किसी भी ब्लॉक की छह ग्राम पंचायतों को मिलाकर तंबाकू व नशा मुक्ति के  प्रशिक्षण और जन जागरूकता कार्यक्रम चलाने के निर्देश दिए। कार्यक्रम सफल होने पर सभी ब्लॉकों में इसी तरह नशामुक्ति अभियान चलाने के निर्देश दिए। 

नगर निगम भी चलाएगा अभियान

उन्होंने नगर निगम को भी एक वार्ड का चयन कर ऐसा अभियान चलाने के निर्देश दिए। डीएम ने शिक्षा विभाग को विद्यालय परिसर के सौ गज के दायरे में नशा प्रतिबंधित और तंबाकू सेवन से होने वाले नुकसान के डिस्प्ले बोर्ड लगाने को कहा। डीएम ने स्टीयङ्क्षरग कमेटी के जिला समन्वयक को पंचायतराज, शिक्षा और आंगनबाड़ी केंद्रो, सरकारी कार्यालयों, सार्वजनिक स्थलों पर एक स्टैंडर्ड साइज का साइनबोर्ड लगाने और वाल पेंटिंग से तंबाकू और नशा मुक्ति का प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिए। जिले में नशामुक्ति के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई के लिए सभी एसडीएम को और ऋषिकेश को पूरी तरह से तंबाकू मुक्त करने के आदेश दिए गए। 

इस मौके पर जिला सलाहकार तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ की जिला समन्वयक अर्चना उनियाल ने प्रेजेंटेशन के जरिए सार्वजनिक स्थलों पर पान मसाला, सिगरेट आदि का प्रचार करने वालों के खिलाफ कोटपा (सिगरेट और अन्य तंबाकू उत्पाद, विज्ञापन का प्रतिबंध और व्यापार तथा वाणिज्य, उत्पादन, प्रदाय और वितरण का विनियमन) अधिनियम 2003 के अंतर्गत की गई चालान व कार्रवाई के बारे में बताया। 

यह भी पढ़ें: नशा छुड़ाने की छटपटाहट, 163 ने साझा किया दर्द; पढ़िए पूरी खबर

इसके साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में और विद्यालयों में किए प्रचार-प्रसार व आगामी प्रशिक्षण कार्यक्रम के बारे में बताया। सीडीओ जीएस रावत ने प्रकोष्ठ के जिला समन्वयक को प्रचार सामग्री सभी विभागों में पहुंचाने और प्रगति रिपोर्ट का विवरण देने के निर्देश दिए। बैठक में एडीएम वीएस बुद्धियाल, सीएमओ डॉ. मीनाक्षी जोशी, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी उत्तम चौहान आदि मौजूद थे। 

यह भी पढ़ें: उत्‍तराखंड में तीन राज्यों से आता है मौत का सामान, पढ़िए पूरी खबर

 

Posted By: Sunil Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस