ऋषिकेश, [जेएनएन]: ऑनलाइन खरीदारी में उपभोक्ताओं के साथ धोखाधड़ी का एक और मामला सामने आया है। मुनिकीरेती निवासी एक छात्र ने एक नामी कंपनी से ऑनलाइन कैमरा ऑर्डर किया, लेकिन जब पार्सल पहुंचा, तो छात्र के होश उड़ गए। पार्सल के अंदर कैमरा तो नहीं निकला, बल्कि 40 ग्राम का पत्थर का टुकड़ा जरूर रखा मिला। पीड़ित छात्र ने डिलीवरी करने वाली कंपनी को फोन किया तो कोई जवाब नहीं मिला। अब यह छात्र पुलिस की शरण में पहुंच गया है। 

मुनिकीरेती में मधुबन आश्रम के पास कैलाश गेट निवासी शुभम झा पुत्र लल्लन झा बीसीए का छात्र है। छात्र के मुताबिक उसने 17 मई को एक नामी अंतराष्ट्रीय कंपनी से ऑनलाइन कैनन ईओएस-200डी का ऑर्डर दिया था। कैमरे की कीमत 37450 रुपये उसने ऑनलाइन जमा भी करा दिए थे। 

20 मई को कस्तूरबा गांधी मार्ग दिल्ली स्थित एसएस इंटरप्राइजेज ने ब्लूडॉर्ट कोरियर सर्विस के जरिये भेजा गया पार्सल छात्र को प्राप्त हुआ। पार्सल की बनावट देख छात्र शुभम को शक हुआ। तो उसने वीडियों रिकॉर्डिंग करते हुए पार्सल को खोला। देखा तो उसमें पत्थर का टुकड़ा निकला। जिसका वजन करीब 40 ग्राम था। 

शुभम ने पार्सल के साथ आए कागजों के आधार पर डिलीवरी करने वाली एजेंसी को फोन किया। शुभम के मुताबिक तीन बार उक्त नंबर पर घंटी गई, फिर चौथी बार नंबर स्विच ऑफ हो गया। शुभम ने कोरियर कंपनी कार्यालय जाकर शिकायत की, तो उन्होंने इस पार्सल को लेने से इंकार कर दिया। 

दोस्तों से पैसे उधार लेकर कैमरा मंगाने वाले शुभम ने पुलिस चौकी जाकर तहरीर दी। थाना मुनिकीरेती के प्रभारी निरीक्षक आरके सकलानी ने बताया कि यह भी संभव है कि नामी कंपनी के नाम से किसी अन्य ने यह फ्रॉड किया हो। पुलिस मामले से जुड़े हर पहलु की गहनता से जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें: पुलिस ने ठगी करने वाले आरोपित को किया गिरफ्तार

यह भी पढ़ें: विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर सवा तीन लाख ठगे

यह भी पढ़ें: ओएनजीसी में नौकरी के नाम पर छह लाख रुपये ठगे

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप