देहरादून, जेएनएन। आम आदमी को राहत देने के लिए मंडी परिसर में लगाए गए सस्ते प्याज के काउंटरों पर पहले दिन भारी भीड़ उमड़ी। 75 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से प्याज खरीदने के लिए दूनवासी यहां पहुंचे। सस्ते काउंटरों पर पहले दिन करीब 24 कुंतल प्याज बिका। 

निरंजनपुर स्थित मंडी परिसर में मंगलवार से सस्ते प्याज के दो काउंटर लगाए गए। इसकी जानकारी मिलते ही यहां बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। यहां एक व्यक्ति को केवल एक किलो प्याज ही बेचा गया। यह दो काउंटर पीएल चड्ढा ट्रेडर्स सी-42 और गुलशन ट्रेडिंग कंपनी सी-15 पर लगाए गए। 

मंडी निरीक्षक अजय डबराल ने बताया कि प्याज के दामों में कमी न आने के कारण डिमांड में कमी आ रही है। ऐसे में लोगों को कुछ राहत देने के लिए मंडी में दो काउंटर लगा दिए गए हैं। जहां 75 रुपये किलो की दर से प्याज उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि पहले भी सस्ते प्याज के काउंटर खोले गए थे, लेकिन तब पांच किलो प्रति व्यक्ति सीमा तय करने के कारण दुरुपयोग भी हुआ। 

ऐसे में इस बार महज एक किलो प्रति व्यक्ति निर्धारित किया गया है। इसके बावजूद लोग प्याज खरीदने बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं। वहीं, सुबह के समय महापौर ने मंडी परिसर में पॉलीथिन को लेकर छापा मारा तो कई लोगों को थैला न होने के कारण बैरंग लौटना पड़ा। 

यह भी पढ़ें: निरंजनपुर मंडी से खरीदें सस्ता प्याज, लगाए गए दो काउंटर Dehradun News

फिलहाल अलवर के प्याज का ही सहारा 

मंडी में 893 कुंतल प्याज आया। इसका थोक भाव 55, 60 और 70 रहा। इंदौर से भी नियमित आपूर्ति नहीं हो रही है। मंडी सचिव विजय थपलियाल ने बताया कि फिलहाल अलवर से ही अधिकांश प्याज दून पहुंच रहा है। पंजाब की मंडी से मंगाए जा रहे तुर्की के प्याज की डिमांड न होने के कारण यह प्याज फुटकर व्यापारी नहीं उठा रहे हैं। नासिक से प्याज आने में अभी समय है। फिलहाल अलवर के साथ ही इंदौर से भी प्याज की नियमित आपूर्ति रखने का प्रयास किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: मंडी में फिर एकबार मिलेगा सस्ता प्याज, उपभोक्ताओं को मिलेगी राहत 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस