जागरण संवाददाता, ऋषिकेश। पौड़ी गढ़वाल के द्वारीखाल ब्लॉक क्षेत्र में एक मारुति कार खाई में गिर गई। हादसे में चालक की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में ले लिया। बताया गया चालक कार में अकेला ही सवार था। हादसा चेलुसैण-गुमखाल मोटर मार्ग पर भेंसुल गांव के पास हुआ। 

जानकारी के मुताबिक यमकेश्वर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत द्वारीखाल में सुराड़ी से मारुति 800 को लेकर विरेंद्र सिंह (38 वर्ष) पुत्र कमल सिंह निवासी सुराड़ी गुरुवार की सुबह करीब नौ बजे घर से चेलुसैण बाजार के लिए निकले थे। गांव से करीब 100 मीटर आगे भेंसुल गांव के समीप कार अनियंत्रित होकर अचानक करीब सौ मीटर गहरी खाई में गिर गई। 

हादसे का पता चलते ही ग्रामीणों ने इस बात की सूचना राजस्व पुलिस को दी और खुद रेस्क्यू में लग गए। मौके पर पहुंचे राजस्व उपनिरीक्षक पुष्कर सिंह ने बताया कि इस दुर्घटना में वीरेंद्र सिंह की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। वह कार में अकेले ही बैठे थे। शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया है। साथ ही मृतक के स्वजनों को सूचित कर दिया गया है।

आंदोलनकारी कमला के निधन पर शोक व्यक्त किया

चिह्नित राज्य आंदोलनकारी संयुक्त समिति ने उत्तरकाशी के मोरी विकासखंड की राज्य निर्माण आंदोलनकारी कमला राणा के निधन पर दुख व्यक्त किया है। समिति के केंद्रीय मुख्य संरक्षक धीरेंद्र प्रताप ने बताया कि कमला राणा ने उत्तरकाशी में उत्तराखंड राज्य निर्माण आंदोलन की अलख जगाई थी। पिछले दिनों बीमार होने की वजह से उन्हेंं देहरादून के कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी मृत्यु हो गई। 

उन्होंने कहा कि राज्य आंदोलन में उन्होंने उत्तरकाशी की महिलाओं को उत्तराखंड राज्य निर्माण आंदोलन में भागीदारी के लिए बड़े पैमाने पर प्रेरित किया था। समिति की केंद्रीय महिला शाखा की अध्यक्ष सावित्री नेगी, अध्यक्ष हरि कृष्ण भट्ट, कार्यकारी अध्यक्ष सरिता नेगी, अरुणा थपलियाल, अनिल जोशी आदि ने भी उनके निधन पर दुख जताया। 

यह भी पढ़ें: विकासनगर में ट्रक ने बाइक सवार युवकों को मारी टक्कर, एक की मौत; दूसरा गंभीर

Edited By: Raksha Panthari