जागरण संवाददाता, देहरादून। कोरोना से बचाव के लिए उत्तराखंड में तीन जनवरी से किशोरों को कोवैक्सीन लगेगी। इसके लिए एक जनवरी से कोविन पोर्टल पर आनलाइन पंजीकरण शुरू हो रहा है। जिले में 15-18 साल के डेढ़ लाख किशोरों को स्कूल-कालेजों में टीका लगाया जाना है।

सीएमओ डा. मनोज उप्रेती ने बताया कि इस चरण में उन सभी किशोरों को टीका लगाया जाएगा, जिनका जन्म वर्ष 2007 में या 2007 से पहले हुआ है। टीका लगवाने के लिए सभी किशोरों को पहचान पत्र के रूप में आधार कार्ड या स्कूल आइ कार्ड दिखाना होगा। स्कूल आइ कार्ड के साथ मोबाइल साथ में लाना अनिवार्य होगा। किशोरों को टीका उनके विद्यालय में लगाया जाएगा, जो किशोर विद्यालय नहीं जा रहे हैं, वे जनपद के अन्य कोविड टीकाकरण केंद्रों में जाकर आनस्पाट पंजीकरण कराकर टीका लगवा सकते हैं।

इसके लिए कोविन पोर्टल पर जाकर आनलाइन पंजीकरण कर स्लाट भी बुक कर सकते हैं। विद्यालयों में टीका लगवाने के लिए अभिभावक अपने बच्चों के स्कूल से संपर्क कर सकते हैं। ऐसे किशोर जो वर्तमान में किसी स्कूल में पंजीकृत नहीं हैं, उन्हें जनपद के अन्य कोविड टीकाकरण केंद्रों मेें जाकर आनस्पाट पंजीकरण करवाकर टीका लगवाया जाएगा। ऐसे किशोर जो जनपद में रह रहे हैं, पर भारत के अलावा किसी अन्य देश के नागरिक हैं, वह अपना पासपार्ट दिखाकर जनपद के कोविड टीकाकरण केंद्रों में जाकर आनस्पाट पंजीकरण कराकर टीका लगवा सकते हैं।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. दिनेश चौहान ने बताया कि किशोरों के टीकाकरण की पूरी तैयारी कर दी गई है। इस संबंध में शिक्षा विभाग से समन्वय स्थापित किया गया है। सभी स्वास्थ्य कर्मियों का प्रशिक्षण दिया जा चुका है।

स्लाट बुक करने की प्रक्रिया

-बच्चे के लिए स्लाट बुक करने की प्रक्रिया भी वैसी ही है, जैसे की वयस्कों के लिए है।

-स्लाट बुक करने के लिए आपको आपको कोविन पोर्टल Cowin.gov.in पर जाना होगा।

-वहां अपने आधार नंबर और मोबाइल नंबर की मदद से खुद को रजिस्टर करना होगा। छात्र अपने स्कूल आइडी कार्ड को भी विकल्प के तौर पर इस्तेमाल कर सकेंगे।

-अपने राज्य, जिला या फिर नजदीकी क्षेत्र का पिन कोड, डालकर उन्हें अपने सुविधा और सहूलियत के हिसाब से टीका केंद्र चुनना होगा।

-स्लाट उपलब्ध होने पर उसे बुक कर सकेंगे और तय तारीख पर वैक्सीन लगवा सकेंगे।

यह भी पढ़ें- जानें- उत्तराखंड में 60 साल से अधिक आयु वालों को कब से लगेगी बूस्टर डोज, सीएम ने क्या दिए निर्देश

Edited By: Raksha Panthri