जागरण संवाददाता, देहरादून। स्वास्थ्य विभाग में नर्सिंग अधिकारियों की पदोन्नति न होने से उनमें नाराजगी है। नर्सिंग अधिकारियों का कहना है कि मुख्यमंत्री ने विभाग को अगस्त तक पदोन्नति किए जाने के आदेश दिए थे, लेकिन विभाग फाइल दबाए बैठा है। उन्होंने जल्द पदोन्नति न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

दून मेडिकल कालेज चिकित्सालय में उत्तराखंड नर्सेज संघ की बैठक हुई। प्रदेश अध्यक्ष मीनाक्षी जखमोला, महामंत्री कांति राणा ने कहा कि कई बार वार्ता एवं पत्राचार के बावजूद भी नर्सिंग अधिकारियों की वरिष्ठ नर्सिंग अधिकारियों के पद पर पदोन्नति नहीं की गई है, जिससे अधिकांश को बिना पदोन्नति के सेवानिवृत्त होना पड़ रहा है, जबकि पद रिक्त हैं। महानिदेशालय स्तर से बार-बार आश्वासन दिया जा रहा है, जबकि सीएम स्वयं अधिकारियों को जल्द पदोन्नति के आदेश दे चुके हैं। यदि जल्द इस ओर कार्रवाई नहीं हुई तो कार्य बहिष्कार किया जाएगा। इस दौरान कोषाध्यक्ष विद्या चौबे, वीर कौर, अनुराधा, रश्मि, इंदु शर्मा, रेखा, भारती, शालिनी, कविता कुसुम रावत, सुमन, विनीता रानी, वीना शाह, नेहा टोलिया, रश्मि कठैत आदि मौजूद रहे।

चिकित्सा अधीक्षक के समक्ष उठाई महिला वार्ड की समस्या

राजकीय दून मेडिकल कालेज चिकित्सालय के महिला वार्ड में एक बेड पर दो-दो महिलाओं को भर्ती करने का महानगर कांग्रेस ने कड़ा विरोध किया है। उन्होंने अस्पताल में सुविधाएं बढ़ाने को लेकर अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डा. केसी पंत को ज्ञापन सौंपा। चेतावनी दी कि यदि जल्द व्यवस्थाओं में सुधार नहीं हुआ तो कांग्रेस धरना-प्रदर्शन करेगी।

मंगलवार दोपहर को महानगर कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल पूर्व विधायक राजकुमार के नेतृत्व में दून चिकित्सालय पहुंचा। ज्ञापन के माध्यम से पूर्व विधायक ने अवगत कराया कि राजकीय दून मेडिकल कालेज चिकित्सालय में गरीब लोग इलाज को पहुंचते हैं, लेकिन यहां सुविधाएं नहीं मिल पा रही हैं। महिला वार्ड में बहुत कम बेडों की व्यवस्था है, जिससे एक बेड पर दो-दो महिला मरीजों को रखा जा रहा है, जो आमजन के साथ अन्याय है।

उन्होंने मांग की कि जनहित में अस्पताल में पैथोलाजी लैब, एक्सरे मशीन, सीटी स्कैन मशीन की सेवा चौबीस घंटे उपलब्ध कराई जाए। कहा कि रेडक्रास व ओपीडी बिल्डिंग का निर्माण पूरा नहीं हुआ है, जिस कारण आमजन को सभी सुविधाएं नहीं मिल पा रही हैं। वार्ड बाय, नर्सिंग स्टाफ व सफाई कर्मचारियों की कमी को दूर किया जाए। इस अवसर पर महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, प्रदेश सचिव ओमप्रकाश वाल्मीकि, राजपुर विधानसभा प्रभारी जगदीश धीमान, ब्लाक अध्यक्ष प्रकाश नेगी, पार्षद निखिल कुमार, जहांगीर खान, नीरज नेगी, इम्तियाज आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- बेरोजगार युवाओं ने पुलिस भर्ती में देरी पर उठाए सवाल, अनशन करेंगे की दी चेतावनी

Edited By: Raksha Panthri