देहरादून, जेएनएन। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआइ) के कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक के पुतले की शव यात्रा निकाली। जिसमें उनके द्वारा लिए गए अंतिम सेमस्टर की परीक्षा करवाने व नई शिक्षा नीति के विरोध में कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन भी किया।

गुरुवार को कांग्रेस भवन से कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के मार्गदर्शन के बाद एश्लेहॉल पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री के पुतला दहन किया गया। एनएसयूआइ के पदाधिकरी विकास नेगी और अजय रावत ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा जो अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षा व नई शिक्षा नीति लागू की जा रही है वह इस कोविड-19 महामारी में करवा पाना संभव नहीं है।

यह भी पढ़ें: अयोध्या में श्रीराम मंदिर भूमि पूजन पर कांग्रेस में भी उत्साह

देश में डेढ़ लाख से ज्यादा की केस आ चुके हैं, ऐसे में एक सितंबर के अंतिम वर्ष की परीक्षा करवाना विश्वविद्यालय और छात्र- छात्राओं के जीवन के साथ खिलवाड़ है। शीघ्र ही एमएचआरडी और केंद्र सरकार अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षा करवाने के फैसले को वापस लें। इस दौरान विकास नेगी, अजय रावत, प्रकाश नेगी, उज्जवल, कपिल, आशीष सक्सेना आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत नौ अगस्त को पहुंचेंगे गैरसैंण

Posted By: Sumit Kumar

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस