मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

देहरादून, जेएनएन। जिला प्रशासन इस बार स्वतंत्रता दिवस के लिए दो हजार ई-पास जारी करेगा। पर्यावरण संरक्षण के मद्देनजर और कार्ड बांटने में समय और प्रकाशन में बजट की बर्बादी रोकने के लिए यह निर्णय लिया गया है। ट्रायल सफल रहने के बाद भविष्य में ई-पास से ही आमंत्रण दिया जाएगा। 

इस बार स्वतंत्रता दिवस पर पहली बार ई-पास को प्रयोग किया जा रहा है। यदि व्यवस्था ठीक रही तो अगली बार से पूरी तरह से लागू किया जाएगा। जिलाधिकारी सी रविशंकर ने बताया कि अधिकारियों, मीडिया प्रतिनिधियों और अन्य विशिष्ट मेहमानों को ई-पास जारी होंगे। उन्होंने बताया कि हर साल स्वतंत्रता दिवस समारोह में अतिथियों को आमंत्रित करने के लिए आठ हजार पास जारी किए जाते हैं। इनको प्रकाशन से लेकर बांटने तक समय लगता है। लेकिन इस बार ई-पास की व्यवस्था ट्रायल के रूप में की जा रही है। 

दो हजार ई-पास जारी किए जाएंगे। इससे कागज की खपत कम होने के साथ ही बजट और समय की भी बचत होगी। ई-पास मोबाइल नंबर और ई-मेल आइडी पंजीकृत वालों को जारी किए जाएंगे, जिससे समारोह स्थल पर जाने के बाद वह अपने मोबाइल पर ई-पास दिखाते हुए क्यूआर कोड को स्कैन करा सकेंगे। 

यह भी पढ़ें: पूर्व सैन्‍य अधिकारी बोले, राजनीतिक दखल कम होने से जम्मू-कश्मीर में आतंक का होगा सफाया

यह भी पढ़ें: अनुच्छेद 370: सीएम और विधानसभा अध्यक्ष ने बताया ऐतिहासिक फैसला

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप