देहरादून, जेएनएन। कोरोना के बाद लॉकडाउन के चलते धार्मिक स्थलों पर भीड़ जुटाने मनाही है। अधिकांश मंदिरों के कपाट भक्तों के लिए बंद हैं। ऐसे में भक्त घर बैठे ही मंदिर में आरती के दर्शन कर सकेंगे। इसके लिए टपकेश्वर स्थित माता वैष्णो देवी गुफा योग मंदिर समिति ने यह पहल की है। भक्त अब सुबह और शाम मंदिर में होने वाली आरती फेसबुक लाइव के जरिये दर्शन कर सकते हैं।

मंदिर के संस्थापक आचार्य विपिन जोशी ने बताया कि कई भक्तों ने उनको फोन कर लाइव दर्शन कराने को कहा। भक्तों की आस्था को ध्यान में रखते हुए अब उन्हें फेसबुक पेज पर माता वैष्णो देवी गुफा मंदिर टपकेश्वर के जरिये आरती और माता के दर्शन कराया जाएगा। मां डाटकाली मंदिर के महंत रमन गोस्वामी ने बताया कि भक्त घर में ही आरती देख सकें, इसके लिए यह बेहतर कार्य है। शक्ति विहार माता मंदिर के पंडित आदित्यराम ने कहा कि वह भी लाइव आरती भक्तों को लाइव फेसबुक के जरिये दिखाएंगे। कथावाचक पंडित सुभाष जोशी ने मौजूदा परिस्थिति को देखते हुए प्रयास सराहनीय है। भक्त घर बैठे मोबाइल पर मां के दर्शन कर सकेंगे।

श्रद्धालुओं ने घर पर ही की मां की आराधना

25 मार्च से चैत्र नवरात्र की शुरुआत हो चुकी है। कोरोना के चलते शहर के मंदिरों के कपाट भक्तों के लिए बंद हैं। गुरुवार को भक्तों ने घर पर ही विधिविधान के साथ मां दुर्गा के दूसरे रूप ब्रह्मचारिणी की पूजा की। वहीं मंदिरों में मौजूद पंडितों ने सुबह-शाम आरती की।

कोरोना के कारण सभी प्रमुख मंदिर बंद हैं, लिहाजा इस बार ये उत्सव बिना भक्तों की भीड़ और उनके जयकारों के शुरू हुआ है। मां डाटकाली, वैष्णो देवी मंदिर गुफा टपकेश्वर, कालिका माता मंदिर, श्यामसुन्दर मंदिर पटेलनगर, आदर्श मंदिर, मां दुर्गा मंदिर सर्वे चौक समेत तमाम बड़े मंदिरों में सन्नाटा है और केवल वहां मौजूद पुजारी ही पूजा अर्चना कर रहे हैं। मंदिरों के बाहर नोटिस बोर्ड लगा दिए गए हैं।

बोले भक्त

पटेलनगर निवासी पुष्पा बताती हैं की वह तकरीबन 20 साल से चैत्र नवरात्र का व्रत रख रही हैं। इस बार कोरोना के चलते मंदिर के कपाट बंद हैं। वह घर में पूजा की जा रही हैं। मियांवाला निवासी रश्मि ने बताया कि इस समय घर से बाहर न निकलने में ही समझदारी है। इसलिए पूजा भी घर में हो रही है।

भक्तों के नाम का अनुष्ठान घर पर 

मंदिर में पंडित नित्य आरती कर रहे हैं। जबकि नवरात्र में भक्तों के नाम पर अपने घर पर अनुष्ठान कर रहे हैं। मां वैष्णो देवी गुफा मंदिर टपकेश्वर के संस्थापक आचार्य विपिन जोशी ने बताया कि अपने नाम की पूजा करवाने के लिए हर दिन 20 से 30 भक्तों के फोन आ रहे हैं। उनके नाम की निश्शुल्क पूजा की जाती है। उन्होंने बताया कि भक्त इसी तरह घर पर बैठकर पूजा करें, अनुष्ठान सभी पंडितों ने अपने घर पर रखा है। वहीं मां डाटकाली के महंत रमन गोस्वामी ने भी भक्तों से घर पर बैठकर मां दुर्गा की पूजा करने को अपील की।

मां का किया पूजन

पृथ्वीनाथ महादेव मंदिर में महंत 108 रविंद्रपुरी महाराज के सानिध्य में दिगंबर दिनेश पुरी व पंडित भारत भूषण भट्ट ने मां भगवती के द्वितीय स्वरूप ब्रह्मचारिणी की पूजा की। उन्होंने कोरोना महामारी से मुक्ति व आवश्यक सेवाओं में सहयोग करने वालों के लिए प्रार्थना की। सेवा दल के संजय गर्ग ने बताया कि प्रशासन की अनुमति के बाद शुक्रवार को जरूरतमंदों को भोजन दिया जाएगा

शास्त्र सम्मत है नवरात्र में मानसिक साधना

श्रीमहंत रविंद्र पुरी महाराज (निरंजनी अखाड़ा एवं अधिष्ठाता सिद्धपीठ मंसा देवी मंदिर) ने बताया कि बिना साधन-संसाधन के शुद्ध एवं सच्चे मन से की गई साधना से भी नवरात्र का पूजन संभव है। इस कठिन दौर में यह शास्त्र सम्मत भी है। इस समय कोरोना वायरस की काली छाया नवरात्र व्रत पर पड़ रही है। लेकिन, इससे जरा भी विचलित होने की जरूरत नहीं है। घरों में सच्चे मन से की गई मां भगवती की आराधना का पुण्य भी वही है, जो मठ-मंदिरों में की गई आराधना का। शास्त्र कहते हैं कि नवरात्र व्रत का पालन मात्र जल व पुष्प से भी किया जा सकता है। मां तो श्रद्धाभाव और तन-मन की शुद्धता से ही प्रसन्न हो जाती हैं। इससे जहां आप खुद का जीवन सुरक्षित कर पाएंगे, वहीं समाज, प्रदेश एवं देश भी सुरक्षित रहेगा।

यह भी पढ़ें: नवरात्र के दूसरे दिन भक्तों ने मां ब्रह्मचारिणी की पूजा-अर्चना की

वर्तमान में हमें सिर्फ और सिर्फ यही कोशिश करनी है कि किसी भी दूसरे व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें। अलग-थलग रहकर ही कोरोना की चेन टूटेगी और हम इस महामारी पर जीत दर्ज करने में सफल हो पाएंगे। सरकार यही कोशिश कर रही है, जिसे हमें हर हाल में प्राण-प्रण से अंजाम तक पहुंचाना है। इसके लिए हमें घरों में रहते हुए वालंटियर की भूमिका में लोगों को जागरूक भी करना होगा। यह काम हम फोन के माध्यम से कर सकते हैं। आइए! इस प्रयास में अभी से जुट जाएं।

य‍ह भी पढ़ें: वासंतिक नवरात्र आरंभ, मुख्‍यमंत्री ने हिंदू नववर्ष और नवरात्रि की दी शुभकामनाएं

Posted By: Sunil Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस