देहरादून, आयुष शर्मा। जिन परिवारों के किसी सदस्य का नाम राशन कार्ड में जुड़ने से रह गया है। उनके लिए अच्छी खबर है। ये कार्डधारक अपने क्षेत्र की राशन की दुकान में जाकर परिवार के सदस्यों का नाम जुड़वा सकते हैं। इसके साथ ही उन्हें कार्ड पर उस सदस्य के हिस्से का राशन भी मिलने लगेगा। जिला आपूर्ति विभाग ने यह व्यवस्था इस उद्देश्य से की है ताकि लॉकडाउन के दौरान किसी भी परिवार के समक्ष राशन का संकट उत्पन्न न हो।

नियमानुसार किसी भी राशन कार्ड में नए सदस्य का नाम जोड़े जाने के तीन माह बाद उसके हिस्से का राशन मिलना शुरू होता है। वर्तमान में प्रदेश में ऐसे कई राशन कार्डधारक हैं, जिनके परिवार के कुछ सदस्यों का नाम कार्ड में जुड़ने से रह गया है या फिर उनका आधार लिंक नहीं हुआ है। जिससे इन परिवारों को जरूरत के मुताबिक राशन नहीं मिल पा रहा। 

इस मुश्किल वक्त में इन परिवारों के सामने भोजन की किल्लत न आए, इसके लिए जिला पूर्ति विभाग ने नई पहल की है। जिसके तहत इन परिवारों के राशन कार्ड में प्राथमिकता से छूटे सदस्यों का नाम जोड़ने के साथ उन्हें ऑनलाइन अपडेट किया जाएगा। इसके लिए डीएसओ ने विभाग के अधिकारियों और डाटा ऑपरेटरों को निर्देश दिए हैं।

ऐसे जुड़वाएं नए सदस्य का नाम 

जिला पूर्ति अधिकारी जसवंत सिंह कंडारी ने बताया कि राशन कार्ड में नए सदस्य का नाम जोड़ने के लिए उपभोक्ता को राशन कार्ड की फोटो कॉपी, नए सदस्य का फोटो और आधार कार्ड, आय संबंधित प्रमाण पत्र, बैंक खाते की डिटेल राशन डीलर के पास जमा करनी होगी। डीलर से पूर्ति निरीक्षक या दूसरे विभागीय अधिकारी दस्तावेज ले लेंगे। जिन्हें 10 दिन के भीतर प्राथमिकता से ऑनलाइन अपडेट कर दिया जाएगा। इसके बाद उक्त परिवार नए सदस्य के हिस्से का भी राशन ले पाएंगे।

राशन वितरण में भिन्नता बरकरार

सस्ते गल्ले की दुकानों पर राशन वितरण को लेकर अब भी भिन्नता बरकरार है। कहीं एक महीने का राशन ही वितरित हो रहा है तो कुछ दुकानों में तीन महीने का। इससे उपभोक्ता भी असमंजस में हैं। वहीं, सस्ता गल्ला विक्रेता परिषद के अध्यक्ष जितेंद्र गुप्ता ने बताया कि ज्यादातर राशन डीलरों की दुकानें इतनी बड़ी नहीं हैं कि वहां तीन महीने का राशन एक साथ आ सके। 

इसके अलावा कई राशन डीलर सरकार की घोषणा से पहले ही अप्रैल का राशन उठा चुके थे। डीलर सहूलियत के हिसाब से राशन वितरित कर रहे हैं। इस बात का पूरा ख्याल रखा जा रहा है कि अप्रैल में ही सभी उपभोक्ताओं को तीन माह का राशन मिल जाए।

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Cabinet Meet: उत्तराखंड में 10 लाख एपीएल राशन कार्डधारकों को तीन माह तक दोगुना राशन

फिलहाल समाप्त की गई समय सीमा 

देहरादून के जिला पूर्ति अधिकारी जसवंत सिंह कंडारी के अनुसार, जरूरतमंद लोगों को सरकारी राशन उपलब्ध करवाने के लिए नई यूनिट पर तीन महीने बाद राशन जारी होने की समय सीमा फिलहाल समाप्त कर दी गई है। स्थिति सामान्य होने के बाद पुराने नियम से ही राशन वितरण किया जाएगा। जिन राशन डीलरों ने पहले केवल अप्रैल का राशन वितरित किया है। उन्हें अब मई और जून का राशन एक साथ वितरित करने के निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें: कैबिनेट: उत्‍तराखंड में लॉकडाउन 14 के बाद भी जारी रखने की सिफारिश, मंत्रियों व विधायकों के वेतन में होगी 30 फीसद कटौती

Posted By: Bhanu Prakash Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस