संवाद सूत्र, चकराता: श्री गुलाब सिंह राजकीय महाविद्यालय चकराता ने राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई व नीव संस्था के सहयोग से कोविड-19 जागरूकता को लेकर राष्ट्रीय वेबिनॉर का आयोजन किया गया। जिसमें देशभर के 14 राज्यों से 1300 लोग ऑनलाइन जुड़े। इस दौरान रिवर्स पलायन पर भी मंथन हुआ।

राष्ट्रीय वेबिनॉर में मुख्य वक्ता मुजफ्फरनगर मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर विनय शर्मा ने कोविड-19 के फैलने व बचाव के तरीके बताए। नीव संस्था के उपाध्यक्ष व चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के चीफ प्रोक्टर प्रोफेसर बीर पाल सिंह ने कहा हमें इसे अवसर के रूप में लेना चाहिए। जिससे अगले कदम की ओर आगे बढ़ा जा सके। इसमें सर्तकता बरतनी चाहिए। लोगों को इस संकट से आगे निकलने का रास्ता तलाशना होगा। महाविद्यालय के प्राचार्य प्रोफेसर केएल तलवाड़ ने कहा कोरोना संकट से निपटने को दृढ़ विश्वास व सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ना होगा। कहा कि कोरोना काल में रिवर्स पलायन के जरिए गांव-पंचायत व राज्यों के विकास को नया स्वरूप दे सकता है। कार्यक्रम में अमेरिका से जुड़े एक प्रतिभागी ने कोरोना महामारी के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी साझा की।

इसके अलावा कार्यक्रम में ऑनलाइन शिक्षा, जल व पर्यावरण संरक्षण, पीपीई किट, मास्क, सेनिटाइजर व कोरोना संकट के समय जन जीवन को सामान्य बनाने के उपाए पर विस्तार से चर्चा हुई। इस दौरान राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के समन्वयक व एचएनबी केंद्रीय विश्वविद्यालय के प्रोफेसर ओके बेलवाल, श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय के कार्यक्रम समन्वय डॉ. सुशील चंद्र बहुगुणा, प्रोफेसर अनिल कुमार तिवारी, डॉ. कुलदीप चौधरी, डॉ. उपदेश वर्मा, डॉ. वीरेंद्र कुमार, डॉ. जेपी सिंह, डॉ. अश्वनी शर्मा, प्रोफेसर अनिल कुमार मलिक, डॉ. विजय कुमार तिवारी आदि शामिल रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस