जागरण संवाददाता, विकासनगर: कोतवाली विकासनगर क्षेत्र के नवाबगढ़ में पुल नंबर एक और दो के बीच स्थित आम के बगीचे में हरे पेड़ों का सफाया कर अवैध प्लाटिंग कर दी गई। उपजिलाधिकारी के निर्देश पर नायब तहसीलदार के नेतृत्व में तहसील प्रशासन की टीम ने मौका मुआयना कर करीब 45 पेड़ों के काटे जाने की पुष्टि की। नायब तहसीलदार ने पटवारी को खसरा नंबर चेक कर बाग मालिकों का पता लगाने और एडीओ उद्यान को मामले में मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए। 

पछवादून में आम और लीची के बगीचों का सफाया कर अवैध प्लाटिंग करने के मामले बढ़ गए हैं। ताजा मामला नवाबगढ़ क्षेत्र में हरे आम के फलदार पेड़ों का सफाया कर भूमाफिया ने अवैध प्लॉटिंग कर दी। उद्यान विभाग के संबंधित अधिकारियों की निष्क्रिय कार्यशैली के चलते पूरा बाग सफाया कर दिया गया। मामला संज्ञान में आने पर एसडीएम विकासनगर सौरभ असवाल के निर्देश पर नायब तहसीलदार पंचम सिंह नेगी के नेतृत्व में तहसील प्रशासन की टीम ने बाग और अवैध प्लाटिंग का मौका मुआयना किया। नायब तहसीलदार ने बताया कि अवैध प्लाटिंग मामले में एमडीडीए को भी पत्र लिखा जाएगा। उधर, तहसील प्रशासन की टीम की सक्रियता से भूमाफिया में हड़कंप की स्थिति रही। 

यह भी पढ़ें- उपनल कर्मियों की रैली में नहीं हुआ Covid गाइडलाइन का पालन, 400 के खिलाफ मुकदमा दर्ज

अभद्र टिप्पणी पर की कार्रवाई की मांग 

गलत बयानबाजी के बाद सुर्खियों में आए भारतीय जनता पार्टी के अल्पसंख्यक मोर्चा के पूर्व जिलाध्यक्ष के खिलाफ आक्रोश जताते हुए ब्राह्मण सभा ने प्रदर्शन कर पुतला फूंका। सभा के पदाधिकारियों ने अभद्र टिप्पणी करने के मामले में कानूनी कार्रवाई किए जाने की मांग की। गलत बयानबाजी के चलते भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के पूर्व जिलाध्यक्ष के विरोध में ब्राह्मण सभा के सदस्यों ने विकासनगर के पहाड़ी गली चौक पर प्रदर्शन किया। सभा के अध्यक्ष रिकेश शर्मा ने कहा कि पूर्व मोर्चा जिलाध्यक्ष के बयान को ब्राह्मण समाज किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि इस संबंध में महासभा की ओर से पुलिस-प्रशासन को भी लिखित तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की गई है। परंतु, अभी तक पुलिस-प्रशासन ने इस मामले में कोई कदम नहीं उठाया है। उन्होंने पूर्व जिलाध्यक्ष के विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की मांग की। प्रदर्शन करने वालों में सभा सचिव अनुज कौशिक, अमित कपिल, अंकित शर्मा, सुरेशपाल शर्मा, सुधा बिजल्वाण, अमन, विनोद गौड, मुकेश शर्मा, विशेष शर्मा, नीरज कपिल, संजय शर्मा कौशिक शामिल रहे। 

यह भी पढ़ें- कोरोना जांच से बचने को अगर दिया गलत नंबर और पता तो होगी ये कार्रवाई, जानिए

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप