देहरादून, जेएनएन। नगर निगम की जमीन पर कब्जा कर बनाई गई अवैध बस्ती को जेसीबी से ध्वस्त कर दिया गया। हरिद्वार बाइपास पर कबाड़ी बाजार के पास एक-एक कर करीब 250 झोपड़ी बना सरकारी जमीन कब्जा ली गई थी। शनिवार को नगर निगम टीम ने पुलिस की मौजूदगी में कार्रवाई की। इस दौरान लोगों का विरोध भी हुआ, लेकिन पुलिस ने स्थिति नियंत्रित कर ली।

बिंदाल नदी पर रीवर फ्रंट डेलवपमेंट परियोजना का काम चल रहा है। गत दिनों जब अधिकारियों ने नदी के किनारे जमीन का निरीक्षण किया था तो देहराखास समेत हरिद्वार बाइपास के बड़े हिस्से में पूरी तरह अवैध बस्तियों का कब्जा मिला। स्थिति ये है कि एक-एक बस्ती में 250-300 अवैध झोपड़ी खड़ी हो गई। गत दिनों नगर निगम ने ब्राह्मणवाला में भी ऐसी अवैध बस्तियों को ढहाया था। अब शनिवार को बाइपास पर कबाड़ी बाजार के पास बनी बस्ती पर जेसीबी गरजी। 

जैसे ही निगम टीम पुलिस बल व जेसीबी समेत वहां पहुंची, लोगों में खलबली मच गई। कुछ लोग जेसीबी और टीम के सामने खड़े हो गए और सरकार व निगम के विरोध में नारेबाजी कर हंगामा भी किया। पुलिस ने उन्हें हटाया तो निगम टीम ने झोपड़ियों को तोड़ना शुरू किया। करीब 250 झोपड़ियों को ध्वस्त किया गया। नगर आयुक्त विनय शंकर पांडेय ने बताया कि निगम लगातार अवैध कब्जा करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई कर रहा है। भूमि अधीक्षक विनय प्रताप सिंह के नेतृत्व में टीम गठित की गई है।

यह भी पढ़ें: पैसेफिक मॉल पर नगर निगम ने लगाया पांच करोड़ का जुर्माना Dehradun News

जेसीबी पर पथराव का प्रयास

कार्रवाई से गुस्साए कब्जेदारों ने निगम की जेसीबी पर पथराव का प्रयास किया। भीड़ के बीच कुछ शरारती तत्वों ने निगम टीम व जेसीबी की तरफ पत्थर उछाले। गनीमत थी कि इस दौरान पत्थर किसी को नहीं लगा। इस दौरान पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर भीड़ को खदेड़ दिया।

यह भी पढ़ें: नगर निगम ने की एमडीडीए की रोड़ी जब्त, चालान भी काटा Dehradun News

Posted By: Sunil Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस