जागरण संवाददाता, ऋषिकेश: केंद्रीय शिक्षा मंत्री व क्षेत्रीय सांसद रमेश पोखरियाल निशंक ने एसपीएस राजकीय चिकित्सालय के लिए सांसद निधि से वेंटीलेटर व कोरोना संबंधी चिकित्सा उपकरण के लिए 6.60 लाख रुपए मंजूर किए हैं। उन्होंने जिलाधिकारी हरिद्वार को इस संबंध में तत्काल कार्यवाही करने के आदेश दिए हैं।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक से बीती मंगलवार को महापौर अनीता ममगाईं ने राजकीय चिकित्सालय के लिए सांसद निधि से पांच वेंटीलेटर उपलब्ध कराने के लिए पत्र लिखा था। वेंटीलेटर के संचालन में टेक्नीशियन पर आने वाले खर्च को श्री भरत मंदिर के महंत वत्सल प्रपन्नाचार्य ने स्वीकृति दी थी। इस संबंध में केंद्रीय मंत्री निशंक ने हरिद्वार के जिलाधिकारी को लिखे गए पत्र में कहा कि मेरी सांसद निधि से तत्काल प्रभाव से ऋषिकेश के एसपीएस राजकीय चिकित्सालय में पांच वेंटीलेटर, 50 डी टाइप जंबो सिलेंडर, 20 सेमी फ्लोर बेड, 20 बेड साइड लाकर और 20 आइवी स्टैंड तत्काल प्रभाव से उपलब्ध करवाए जाए। गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्री निशंक ने हाल ही में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय एवं आईसीएमआर की ओर से हरिद्वार में चिह्नित किए गए चार सरकारी डीसीएचसी - बाबा बर्फानी, बेस हॉस्पिटल, मेला हॉस्पिटल और सिविल हॉस्पिटल रुडकी में दो केंद्रों में 20 बीआइपीएपी मशीनें, 200 टाइप डी ऑक्सीजन सिलेंडर, दो आई-स्टैट एबीजी, 50 आई-स्टैट एबीजी 100 का‌िर्ट्रज, दो शार्प ब्लास्टर, 100 बीआईपीएपी मास्क एवं एक ऑक्सीजन प्लांट के लिए 1.5 करोड़ रुपए की राशि सांसद निधि दे दी थी।