जागरण संवाददाता, देहरादून। पुलिस मुख्यालय में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमितों की संख्या के बाद हड़कंप की स्थिति बनी हुई है। स्थिति यह है कि ब्रांचों में तैनात पुलिस अधिकारी वह कर्मचारी जो भी अपना आरटीपीसीआर टेस्ट करवा रहे हैं, उनकी रिपोर्ट पाजिटिव आ रही है। दो-तीन दिनों से लगातार पुलिसकर्मी अपने टेस्ट करवा रहे हैं और जिनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है। उन्हें घर भेज दिया जा रहा है। हालांकि, अभी तक पुलिस मुख्यालय की ओर से टेस्टिंग शुरू नहीं करवाई गई है।

बताया जा रहा है कि पुलिस मुख्यालय में 18 से अधिक अधिकारियों कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। सबसे अधिक क्राइम ब्रांच में कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। चुनाव के चलते ब्रांचों को बंद भी नहीं किया जा रहा है, जो अधिकारी या कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए जा रहे हैं उन्हें छुट्टी पर भेज दिया जा रहा है।

कोविड सैंपलिंग में लगा स्टाफ भी हुआ पाजिटिव, नहीं हो पाई जांच

रुड़की में कोरोना संक्रमण का प्रकोप तेजी के साथ बढ़ रहा है। मंगलवार को अस्पताल में कोविड सैंपलिंग के लिए लगी टीम भी पाजिटिव हो गई है। तीन स्वास्थ्य कर्मी कोरोना पाजिटिव आ गए हैं। जिसके चलते मंगलवार को कोविड की आरटीपीसीआर जांच के लिए सैंपलिंग नहीं हो पाई है। वहीं ट्रूनोट की जांच भी बंद हो गई है। केवल रैपिड एंटीजन जांच के लिए ही सैंपल लिये गए हैं।

कोरोना संक्रमण किसी को भी नहीं बख्श रहा है। सिविल अस्पताल रुड़की में तो एक के बाद एक चिकित्सक व स्वास्थ्य कर्मी कोरोना पाजिटिव होते जा रहे हैं। सिविल अस्पताल रुड़की में कोविड जांच के सैंपलिंग करने वाले तीन स्वास्थ्य कर्मी कोरोना पाजिटिव हो गए हैं। उनके पाजिटिव होने से मंगलवार को अस्पताल में आरटीपीसीआर और ट्रूनेट जांच के लिए सैंपलिंग नहीं हो पाई है। हालांकि, तीन स्वास्थ्य कर्मियों ने रैपिड एंटीजन की जांच के लिए सैंपल लिये हैं।

कोविड सैंपलिंग के नोडल अधिकारी डॉ. विशाल पंवार ने बताया कि कोविड जांच में लगे तीन स्वास्थ्य कर्मियों के कोरोना पाजिटिव आने से मंगलवार को आरपीसीआर के लिए सैंपलिंग नहीं हो पाई है। रैपिड एंटीजन जांच के लिए 55 सैंपल लिये गए थे। इनमें सात लोग कोरोना पाजिटिव आए हैं।

यह भी पढ़ें:- उत्तराखंड में सोमवार को आए कोरोना 3295 मामले, एक्‍टिव केस पहुंचे 18 हजार के पार

Edited By: Sunil Negi