देहरादून, जेएनएन। साइबर अपराध रोकने के लिए अब प्रदेश के सभी थानों में मिनी साइबर सेल गठित होगी। इसके लिए प्रदेश के 13 जिलों के थानों में तैनात 378 पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। 20 मई से सहस्रधारा स्थित पुलिस संचार केंद्र में यह प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस दौरान साइबर अपराध रोकने से लेकर ऐसे मामलों की जांच करने की बारीकियां सिखाई जाएंगीं।

राजधानी में मार्च 2015 में प्रदेश स्तरीय साइबर थाना खोला गया। यहां साइबर अपराध से जुड़े कई मामले दर्ज भी हुए। मगर, आए दिन साइबर अपराध के मुकदमों में बढ़ोत्तरी हो रही है। इससे जिला पुलिस को प्रदेश के साइबर थाना या जिला स्तर पर गठित साइबर सेल में मामला भेजना पड़ता है। लेकिन, अब इसमें कुछ सुधार किए जाने की उम्मीद है। पुलिस मुख्यालय ने प्रदेश के सभी थानों में मिनी साइबर सेल खोलने का निर्णय लिया है।

पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने बताया कि प्रदेश के समस्त थानों में मिनी साइबर थाना बनाया जाएगा। इससे पहले प्रत्येक थाने से एक एचसीपी और दो सिपाहियों को साइबर प्रशिक्षण दिया जाएगा। 20 मई से यह प्रशिक्षण चरणबद्ध तरीके से पुलिस संचार प्रशिक्षण केंद्र, सहस्त्रधारा रोड में दिया जाएगा। यहां साइबर के क्षेत्र में विशेषज्ञता हासिल करने वाले पुलिस कर्मी और अधिकारी साइबर अपराध रोकने और जांच करने का प्रशिक्षण देंगे। 

प्रत्येक चरण में 50 कर्मियों को साइबर प्रशिक्षण कराया जाएगा। प्रशिक्षण में अब तक हुए अपराधों के आधार पर अपराधियों द्वारा प्रयोग की गई आधुनिक तकनीक के बारे में जानकारी दी जाएगी। इस पहल का मकसद यह है कि साइबर अपराध, सोशल मीडिया व आइटी के दुरुपयोग को लेकर दर्ज होने वाले मामलों की जांच में सहयोग मिल सके।

यह भी पढ़ें: एआरटीओ लॉगइन से जुड़ेंगे ड्राइविंग कालेज, पढ़िए पूरी खबर

यह भी पढ़ें: आयुष्मान में बेहतर करने वाले अस्पतालों को मिलेगा प्रोत्साहन, पढ़िए पूरी खबर

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप