देहरादून, जेएनएन। पौड़ी जिले के सुदूरवर्ती पोखड़ा विकासखंड में स्वास्थ्य सुविधाओं का अभाव कुछ प्रवासी युवाओं को ऐसा अखरा कि उन्होंने खुद के संसाधनों से ग्राम बिजोरापानी में टेलीमेडिसिन सेंटर स्थापित कर दिया। उत्साही युवाओं की इस मानवीय पहल से अब ग्रामीणों को घर के नजदीक ही बीमारियों के निदान की सुविधा के साथ निश्शुल्क दवाएं भी मिलने लगी हैं।

बिजोरापानी में प्रवासियों की पहल पर खुला टेलीमेडिसिन सेंटर अब अन्य क्षेत्रों में भी अपनी पहचान बनाने लगा है। यहां आसपास के गांवों के साथ ही बीरोंखाल क्षेत्र के गांवों से भी लोग इलाज के लिए पहुंच रहे हैं। सेंटर में तैनात फार्मासिस्ट मरीजों की प्रारंभिक जांच के बाद वीडियो कॉल के माध्यम से जिला अस्पताल सहित अन्य क्षेत्रों के विशेषज्ञ चिकित्सकों से परामर्श करते हैं। इसके बाद मरीज को आवश्यक दवाएं निश्शुल्क उपलब्ध कराई जाती हैं।

बंदूणी बंधुओं ने की यह अभिनव पहल

घंडियाल कस्बे में नंदा देवी की सामूहिक पूजा में शामिल होने आए प्रवासी युवाओं को जब क्षेत्र में सामान्य उपचार की सुविधा न होने की बात पता चली तो उन्होंने स्वयं खर्चे पर ही वहां टेलीमेडिसिन सेंटर खोलने का निर्णय लिया। दरअसल, सेंटर के सूत्रधार राजीव बंदूणी ने जिलाधिकारी सुशील कुमार के समक्ष क्षेत्र में स्वास्थ्य सुविधाओं के अभाव का मामला उठाया तो उन्होंने टेलीमेडिसिन सेंटर खोलने की सलाह दी। बंगलुरू में सफल व्यवसायी राजीव बंदूणी और दिल्ली में रह रहे शशि बंदूणी इस महायज्ञ के सूत्रधार बने। उन्होंने सभी प्रवासी बंधुओं से इस महायज्ञ में आर्थिक आहुति डालने की भावुक अपील की। नतीजा दो दिनों में ही सवा लाख की सहयोग राशि इकट्ठा हो गई और कुछ ही दिन में बिजोरापानी में सेंटर भी खुल गया। 

प्रवासियों के सहयोग से बना फंड

व्यवसायी राजीव बंदूणी बताते हैं कि प्रवासी बंधु सेंटर को लगातार सहयोग कर रहे हैं। सहयोग राशि से एक फंड बनाया गया है, जिससे विशेषज्ञ चिकित्सकों की ओर से सुझाई गई दवाएं मरीजों को निश्शुल्क उपलब्ध कराई जा रही हैं। इसका सबसे बड़ा फायदा यह हुआ कि ग्रामीणों को अब इलाज के लिए कोटद्वार अथवा पौड़ी के चक्कर नहीं काटने पड़ते। उन्हें घर के निकट ही विशेषज्ञ चिकित्सकों का परामर्श मिल जा रहा है।

यह भी पढ़ें: वैदिककालीन महाऔषधीय वन में है जड़ी बूटियों का अद्भुत संसार, जानिए

यह भी पढ़ें: आभा ने रूढ़ियां तोड़ पेश की मिसाल, मां की चिता को दी मुखाग्नि

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप