मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

देहरादून, जेएनएन। सामान्य प्रेक्षक राजीव रंजन ने स्पोर्ट्स कॉलेज में चल रहे निर्वाचन संबंधी कार्यों का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने कर्मचारियों के प्रशिक्षण, ईवीएम सीलिंग, वीवीपैट, बीयू, सीयू प्रशिक्षण का निरीक्षण कर आवश्यक निर्देश दिए। 

लोक सभा चुनाव को लेकर रायपुर स्थित महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज में निर्वाचन संबंधित विभिन्न कार्य चल रहे हैं। शुक्रवार को चुनाव आयोग के सामान्य प्रेक्षक राजीव रंजन स्पोर्ट्स कॉलेज पहुंचे और उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारी व जिलाधिकारी एसए मुरुगेशन के साथ इन सभी कार्यों का निरीक्षण किया और अधिकारियों को उचित दिशा-निर्देश दिए। जिला निर्वाचन अधिकारी ने अवगत कराया कि चुनाव में लगे सभी कर्मचारियों का शनिवार को प्रशिक्षण पूरा हो जाएगा। जबकि ईवीएम सीलिंग का कार्य अभी दो दिन और होगा। कुछ ईवीएम में खराबी आने के कारण उन्हें बदला जा रहा है। 

बताया कि इसके साथ ही ईवीएम वितरण आदि के लिए भी विधानसभा क्षेत्र और बूथ वाइज वितरण के लिए व्यवस्थाएं कर ली गई हैं। सीलिंग का कार्य पूरा होने के बाद सभी संबंधित क्षेत्र के जोनल और सेक्टर मजिस्ट्रेटों को इनका आवंटन कर दिया जाएगा। 

प्रशिक्षण से गायब रहे 46 कर्मचारी

चुनाव संबंधी प्रशिक्षण से कर्मचारी कन्नी काटने से बाज नहीं आ रहे हैं। शुक्रवार को भी 46 कर्मचारी प्रशिक्षण से गायब रहे। नोडल अधिकारी प्रशिक्षण एडीएम वित्त एवं राजस्व बीर सिंह बुदियाल ने कहा कि अनुपस्थित कर्मचारियों को नोटिस दिए गए है। महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज में चुनाव में लगे कर्मचारियों का चुनाव संबंधी प्रशिक्षण चल रहा है। शुक्रवार को 46 कर्मचारी प्रशिक्षण से नदारद रहे। नोडल अधिकारी प्रशिक्षण बीर सिंह बुदियाल ने कहा कि ऐसे सभी कर्मचारियों को नोटिस भेज दिया गया है। जो कर्मचारी प्रशिक्षण में शामिल नहीं हुए हैं, उनकी लिस्ट बनाकर उनके खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी। 

1797 पोलिंग पार्टियां एडवांस में लेंगी चुनावी सामग्री 

लोकसभा चुनाव में मतदान कराने वाली पोलिंग पार्टियां एडवांस में चुनावी सामग्री प्राप्त करेंगी। सबसे पहले आठ अप्रैल को चकराता और डोईवाला विधानसभा के 61 पार्टियां चुनाव सामग्री प्राप्त कर नौ अप्रैल की सुबह रवाना होंगी। इसके बाद शेष 1736 पार्टियों को नौ और 10 अप्रैल को मतदान सामग्री वितरण कर रवाना किया जाएगा। 

जनपद की 10 विधानसभा में मतदान कराने वाली पोलिंग पार्टियां तैयार हो गई हैं। चकराता की 57 और डोईवाला की चार पैदल जाने वाली पोलिंग पार्टियां आठ अप्रैल को चुनाव सामग्री प्राप्त कर लेंगी। इसके बाद नौ अप्रैल को 11 बजे तक यह पार्टियां रवाना हो जाएंगी। इसके बाद नौ तारीख को 1030 पार्टियों को चुनावी सामग्री बांटी जाएगी। इसके बाद शेष 706 पोलिंग पार्टियां को 10 अप्रैल को चुनावी सामग्री देने के साथ ही रवाना किया जाएगा। 10 अप्रैल को शहरी क्षेत्र की अधिकांश पोलिंग पार्टियां शामिल हैं। 

पांच बजे तक सभी पार्टियां अपने मतदान स्थल पर पहुंचने के बाद चुनाव कंट्रोल रूम को सूचना देंगी। इस दौरान पोलिंग स्थलों पर सुरक्षा और व्यवस्था का जायजा जोनल, सेक्टर और एआरओ लेंगे। इसके अलावा पुलिस के जोनल अधिकारी और संबंधित थानेदार भी सुरक्षा व्यवस्था देखेंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी एसए मुरूगेशन ने बताया कि पोलिंग पार्टियों के लिए रायपुर स्पोर्ट्स कॉलेज में सामग्री वितरण के लिए अलग-अलग काउंटर बनाए गए हैं। 

चुनाव ड्यूटी करने वाले कर्मियों को मिलेगा जेब खर्चा 

लोकसभा चुनाव ड्यूटी करने वाले कार्मिकों को चुनावी भत्ता रवाना होने से पहले दिया जाएगा। इसके लिए जिला निर्वाचन अधिकारी एसए मुरूगेशन ने आदेश जारी कर दिए हैं। कार्मिकों को न्यूनतम तीन सौ रुपये और अधिकतम 15 सौ रुपये चुनावी भत्ते के रूप में दिए जाएंगे। हालांकि टीए और डीए के लिए कार्मिकों को अपने-अपने विभागों में बिल जमा करने होंगे। इसके बाद ही उनको शेष रकम दी जाएगी। 

जिला निर्वाचन अधिकारी एसए मुरूगेशन ने बताया कि लोकसभा चुनाव ड्यूटी में तैनात कार्मिकों को जेब खर्च के रूप में एडवांस भत्ता मिलेगा। इसमें अलग-अलग वेतनमान के हिसाब से भत्ता तय हैं। मगर, कागजी कार्रवाई के चलते निर्वाचन विभाग ने 60 से 80 फीसद भत्ता पोलिंग पार्टियों को रवाना होने से पहले नकद दिए जाने का निर्णय लिया है। इसमें राज्य पुलिस कर्मियों को सिर्फ प्रतिदिन खाने के लिए डेढ़ सौ रुपये दिया जाएगा। जबकि अन्य कार्मिकों को खाने के साथ भत्ते की आधी रकम यानि चार सौ से लेकर एक हजार रुपये दिए जाएंगे। 

सेक्टर, जोनल मजिस्ट्रेट को आयोग की तरफ से तय निश्चित मानदेय 15 सौ रुपये दिए जाएंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि भत्ते को लेकर आदेश जारी कर दिए हैं। पोलिंग पार्टियों को रवाना होने से पहले रायपुर स्पोर्ट्स कॉलेज से चुनावी सामग्री के दौरान भत्ता प्राप्त होगा। 

दो मतदेय स्थलों की कमान संभालेंगी महिलाएं 

गढ़वाल संसदीय सीट में शामिल जनपद की छह विधानसभा सीटों में से दो विधानसभा क्षेत्रों के एक-एक मतदेय स्थल की कमान इस बार महिला कार्मिकों के पास होगी। इतना ही नहीं मतदान के दौरान यहां तैनात सुरक्षा कर्मी के रूप में महिला सुरक्षा कर्मी ही तैनात मिलेंगी। इसके लिए जिला निर्वाचन विभाग ने कार्मिकों को प्रशिक्षित करने के साथ ही तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया है। निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देश को जिला निर्वाचन विभाग ने अमलीजामा पहनाना शुरू कर दिया है। 

दो मतदेय स्थलों की कमान महिलाएं संभालेंगी। उनमें एक पौड़ी विधानसभा क्षेत्र और दूसरा कोटद्वार विधानसभा क्षेत्र के अधीन है। इन दोनों मतदेय स्थलों में निर्वाचन कार्यों से जुड़े पीठासीन अधिकारी के अलावा, प्रथम मतदान अधिकारी, द्वितीय मतदान अधिकारी आदि सभी कार्मिक महिलाएं ही होंगी। इसके अलावा सुरक्षा के लिहाज से मतदेय स्थल पर तैनात होने वाले कार्मिकों के रूप में महिला सुरक्षा कर्मी ही तैनात होंगे। जिलाधिकारी, जिला निर्वाचन अधिकारी धीराज सिंह गब्र्याल ने बताया कि जनपद की दो विधानसभा क्षेत्रों में दो मतदेय स्थल पर निर्वाचन से जुड़े सभी कार्य महिलाएं ही करेंगी। 

यह भी पढ़ें: नमो होने का मतलब ही चहुंमुखी विकास : सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत

यह भी पढ़ें: 35 मिनट में नमो ने कांग्रेस को किया असहज, करप्शन और ढकोसलापत्र पर निशाना

यह भी पढ़ें: आतंकवादियों से ही वोट मांगे कांग्रेस: योगी आदित्यनाथ

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप