देहरादून, राज्य ब्यूरो। रुड़की नगर निगम और सेलाकुई नगर पंचायत के मामले में सरकार को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिल गई है। अदालत ने दोनों नगर निकायों में जल्द चुनाव कराने के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही शासन अब सेलाकुई नगर पंचायत के गठन को लेकर प्रक्रिया शुरू करने में जुट गया है। सूत्रों ने बताया कि सेलाकुई नगर पंचायत के गठन के बाद इसके और रुड़की में एक साथ चुनाव कराए जाएंगे। रुड़की में चुनाव के मद्देनजर तैयारियां पहले ही पूरी की जा चुकी हैं। जल्द ही इस सिलसिले में राज्य निर्वाचन आयोग को सूचना भेजी जाएगी।

सरकार ने पूर्व में सेलाकुई को नगर पंचायत बनाया था, लेकिन कुछ लोगों ने इस फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी। हाईकोर्ट ने सेलाकुई नगर पंचायत की अधिसूचना को निरस्त करते हुए इसके ग्राम पंचायत के स्वरूप को बरकरार रखने के आदेश दिए थे। सरकार ने हाईकोर्ट के इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी। इसके अलावा रुड़की नगर निगम के चुनाव को लेकर भी हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई थी।

शासन में शहरी विकास विभाग के सूत्रों के अनुसार सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के बाद 23 सितंबर को दोनों मामलों को निस्तारित कर दिया। कोर्ट ने दोनों निकायों में जल्द चुनाव कराने के आदेश दिए हैं। सूत्रों ने बताया कि रुड़की नगर निगम में मतदाता सूची के पुनरीक्षण, आरक्षण समेत अन्य औपचारिकताएं पूरी की जा चुकी हैं। अलबत्ता, सेलाकुई नगर पंचायत को लेकर वक्त लग सकता है।

यह भी पढ़ें: टिहरी बांध विस्थापितों को 19 साल में भी नहीं मिला छोटी सरकार चुनने का हक

सूत्रों ने बताया कि जल्द ही सेलाकुई नगर पंचायत के गठन की अधिसूचना जारी की जाएगी। फिर इसके लिए मतदाता सूची का निर्माण, वार्डों का निर्धारण और आरक्षण की प्रकिया पूरी की जाएगी। बताया गया कि इसमें कम से कम दो हफ्ते का वक्त लग सकता है। इसके बाद ही दोनों निकायों में चुनाव के लिए सभी औपचारिकताएं पूरी होने के बाद राज्य निर्वाचन आयोग को सूचना भेजी जाएगी। सरकार की मंशा है कि दोनों निकायों के चुनाव एक साथ कराए जाएं।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में खाली रहेंगे ग्राम पंचायत सदस्यों के 25 हजार से ज्यादा पद

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस