देहरादून, जेएनएन। सीमांत देवघार रेंज त्यूणी के जंगल में मवेशी चराने गए एक ग्रामीण पशुपालक की आठ भेड़-बकरियों को गुलदार ने अपना निवाला बना दिया। घटना से आसपास के पशुपालक भयभीत हैं। लोग गुलदार के डर से पशु चराने पास के जंगल में जाने से कतरा रहें हैं। प्रभावित ने वन विभाग अधिकारियों से नुकसान के एवज में मुआवजे की मांग की। 

चकराता वन प्रभाग के देवघार रेंज त्यूणी के जंगल में गुलदार का आंतक है। बीते दो दिन में गुलदार ने आठ मवेशियों को अपना निवाला बनाया। देवघार खत के शेडिया निवासी पशुपालक हरिसिंह चौहान रोज की तरह शनिवार को अपनी भेड़-बकरियों को पास के जंगल में चुगाने के लिए ले गया था। इस दौरान जंगल में घात लगाकर बैठे गुलदार ने हमला कर आठ भेड़-बकरियों को मार डाला। मवेशी पालक ने किसी तरह वहां से भागकर अपनी जान बचाई और घटना की जानकारी अन्य लोगों को दी। गुलदार के डर से स्थानीय पशुपालक पास के जंगल में मवेशी ले जाने से कतरा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: कोटद्वार में गुलदार ने मासूम को बनाया निवाला, शव बरामद

वहीं आबादी के नजदीक गुलदार की दस्तक से ग्रामीणों में भय का वातावरण हैं। लोगों ने खतरे की आशंका के चलते वन विभाग अधिकारियों से सुरक्षा की गुहार लगाई है। वहीं, रेंज अधिकारी देवघार-त्यूणी यशपाल सिंह राठौर ने कहा कि मामला संज्ञान में आने के बाद जांच-पड़ताल के लिए संबंधित वन दरोगा व वन बीट अधिकारी को घटनास्थल का मौका-मुआयना कर जांच रिपोर्ट जल्द प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए हैं। सुरक्षा के लिहाज से ग्रामीणों को सावधानी बरतने को कहा गया है।

यह भी पढ़ें: नरभक्षी गुलदार को लगी गोली, जंगल की ओर भागा; तलाश जारी

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021