देहरादून, जेएनएन। महिला कल्याण और बाल विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रेखा आर्य का फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाकर आपत्तिजनक संदेश भेजने पर साइबर सेल ने अज्ञात के खिलाफ आइटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है। इस मामले की जांच इंस्पेक्टर रैंक के अधिकारी से करवाई जाएगी।

बीती 30 अप्रैल को राज्यमंत्री रेखा आर्य ने डीआइजी को लिखित शिकायत दी थी कि किसी व्यक्ति ने उनका फर्जी फेसबुक अकाउंट बना लिया है। जिससे उनके फेसबुक मित्रों को आपत्तिजनक संदेश भेजे गए हैं। उन्होंने बताया कि कुछ समय पहले उनका इंस्टाग्राम अकाउंट भी हैक कर लिया गया था। साइबर सेल के सीओ नरेंद्र पंत ने बताया कि इस मामले की शिकायत 30 अप्रैल को मिली थी। फर्जी अकाउंट बनाने वाले ने मैसेंजर से मंत्री के फेसबुक मित्रों को फोन किया था, जिसका डाटा मंगवाया गया है। इसके साथ ही मैसेंजर से बात करने वाले की जानकारी फेसबुक से मांगी गई है।

लॉक खुलते ही कारगी ग्रांट में भिड़े दो गुट

कोरोना संक्रमित मरीज सामने आने के बाद कारगी ग्रांट क्षेत्र को पूर्ण लॉक कर दिया गया था। रविवार को जैसे ही कारगी ग्रांट का लॉक खोला गया, तो यहां दो गुट आपस में भिड़ गए। विवाद की सूचना पर पटेलनगर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने बीच बचाव किया। बताया जा रहा है कि एक व्यक्ति स्कूटर पर इफ्तारी लेकर जा रहा था। रास्ते में कुछ लोग खड़े थे।

यह भी पढ़ें: शातिर अंदाज में साइबर ठग ने उड़ाए 1.30 लाख, आप नहीं होना चाहते शिकार; तो इन बातों का रखें ध्यान

इस दौरान स्कूटर चालक ने अचानक ब्रेक मारा तो इफ्तारी गिर गई। स्कूटर चालक ने रास्ते में खड़े लोगों को थोड़ा साइड खड़े होने को कहा तो सड़क पर खड़े लोगों ने स्कूटर सवार को पीट दिया। उस समय स्कूटर सवार घर चला गया लेकिन थोड़ी देर बाद कुछ लोगों को अपने साथ ले आया और सड़क पर खड़े लोगों की पिटाई कर दी। यह झगड़ा काफी देर तक चलता रहा। दूसरी ओर पटेलनगर कोतवाली के इंस्पेक्टर सूर्यभूषण नेगी ने बताया कि दो पक्षों में किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई थी। बयान लेने के बाद जिसकी भी गलती होगी उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: बैंक से लोन ले रखा है तो कोई भी कॉल आने पर सावधान, छोटी-सी गलती से खाता हो सकता है खाली

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस