देहरादून, जेएनएन। श्रम कानूनों में किए गए बदलाव के विरोध में राष्ट्रीय स्तर पर दर्ज कराए जा रहे विरोध के क्रम में कालसी के जुडडो सिलोन में व्यासी परियोजना के श्रमिकों ने भी प्रदर्शन किया। मजदूर संगठन सीटू के बैनर तले एकत्र हुए श्रमिकों ने भाजपा की केंद्र व राज्य सरकारों पर श्रमिक विरोधी होने के आरोप भी लगाए।

लॉकडाउन के दौरान भाजपा की राज्य सरकारों की ओर से श्रम कानूनों में किए गए बदलाव से नाराज श्रमिकों ने केंद्र व राज्य सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया। सीटू के शाखा अध्यक्ष राजेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि भाजपा की सरकारें श्रमिक विरोधी कार्य कर रही हैं। इसे कतई किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। 

उन्होंने सरकारों से इन बदलावों को वापस लिए जाने की मांग की। विरोध प्रदर्शन में प्रताप तोमर, दिनेश तोमर, नरेश रावत, विजय चौहान, चैन सिंह तोमर, प्रदीप उनियाल, शेर सिंह क्षेत्री, राजपाल तोमर, संजय चौहान, रामपाल तोमर, कमलेश तोमर, शेर सिंह तोमर समेत कई अन्य श्रमिक शामिल रहे।

ऑनलाइन शिक्षा के जरिए अपनी जिम्मेदारी निभाएं शिक्षक

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ की ऑनलाइन बैठक में लॉकडाउन के समय में जारी ऑनलाइन पढ़ाई को लेकर चर्चा की गई। इस दौरान ऑनलाइन माध्यम में शिक्षकों के सामने आ रही समस्याओं पर शिक्षकों की राय के आधार पर समाधान करने पर विचार विमर्श किया गया। बैठक के दौरान महासंघ के ब्लॉक अध्यक्षों की घोषणा भी की गई। 

उत्तराखंड राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने ऑनलाइन शिक्षा व्यवस्था पर विचार करने के लिए प्राथमिक व माध्यमिक संवर्ग के शिक्षकों की बैठक का आयोजन किया। बैठक में मौजूदा समय में शिक्षकों की ओर से कराई जा रही ऑनलाइन पढ़ाई के बारे में उनसे विस्तार से जानकारी ली गई।

महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष प्रो. वीपी पांडे व महामंत्री डॉ. अनिल नौटियाल ने बैठक में ऑनलाइन जुड़े सभी शिक्षकों से उनकी समस्याओं के बारे में बातचीत की। उन्होंने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए स्कूलों को बंद किए जाने के बाद पैदा हुई परिस्थितियों पर चर्चा करते हुए कहा कि वर्तमान स्थिति को देखते हुए यह अनुमान लगाना कठिन है कि कब तक विद्यालय खुलेंगे और बच्चों की उपस्थिति होगी। ऐसे में शिक्षकों को ऑनलाइन शिक्षा के माध्यम से ही अपनी जिम्मेदारी को निभाना है। 

यह भी पढ़ें: Coronavirus: ट्रेड यूनियनों के प्रदर्शन में शारीरिक दूरी के नियम हुए तार-तार

इसके साथ ही बैठक में आने वाले समय में शिक्षा के क्षेत्र में होने वाले नए परिवर्तन के बारे में भी बात की गई। बैठक में संघ के जिला अध्यक्ष नरेंद्र ङ्क्षसह तोमर ने जनपद के छह ब्लॉक अध्यक्षों के नाम की घोषणा भी की। इनमें कालसी से नीरज सैनी, विकासनगर से तेजवीर सिंह मलिक, डोईवाला से मोहन सिंह बिष्ट, रायपुर, तेजबीर सिंह भिडोला, सहसपुर से विजय कांबोज व चकराता से दीपक बिश्नोई को अध्यक्ष बनाया गया। इस दौरान संजय कुमार सैनी, नीरज सैनी आदि शामिल हुए।

यह भी पढ़ें: कैबिनेट में लिए गए एक फैसले को लेकर कांग्रेस ने सरकार को लिया आड़े हाथ

Posted By: Bhanu Prakash Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस