देहरादून, जेएनएन। स्पो‌र्ट्स कॉलेज में राष्ट्रीय खेल सचिवालय का उद्घाटन करने पहुंचे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि यह उत्तराखंड का सौभाग्य है कि 2021 में कुंभ व खेल कुंभ (प्रस्तावित 38वें नेशनल गेम्स) का आयोजन होना है। इसके लिए दो अलग कमेटी कार्य कर रही हैं। जिससे दोनों के सफल आयोजन में कोई परेशानी नहीं होगी।

महाराणा प्रताप स्पो‌र्ट्स कॉलेज में बुधवार को राष्ट्रीय खेल सचिवालय के कार्यालय का उद्घाटन करते हुए मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि दोनों ही भव्य आयोजन हैं। दोनों के लिए अलग-अलग कमेटी सालों से कार्य कर रही हैं। इसके लिए योजनाबद्ध तरीके से काम हो रहा है। कार्यक्रम के बाद उन्होंने राष्ट्रीय खेल सचिवालय परिसर में पौधारोपण भी किया। इस दौरान खेल मंत्री अरविंद पांडे, मुख्य सचिव उत्पल कुमार, सचिव राधिका झा, पुलिस महानिदेशक अपराध व कानून व्यवस्था अशोक कुमार, खेल सचिव बृजेश कुमार संत, संयुक्त निदेशक खेल डॉ. धर्मेद्र भट्ट, संयुक्त निदेशक युवा कल्याण राकेश डिमरी, विशेष कार्याधिकारी नेशनल गेम्स अजय अग्रवाल, सहायक समदेष्टा नीरज गुप्ता, उपनिदेशक खेल सतीश सार्की, उपनिदेशक युवा कल्याण शक्ति सिंह, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी महेश चंद्र शर्मा आदि मौजूद थे।

सीएम की अध्यक्षता में नेशनल गेम्स पर बैठक 

राष्ट्रीय खेल सचिवालय के सभागार में नेशनल गेम्स को लेकर हुई बैठक की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने विभागीय अधिकारियों से नेशनल गेम्स की तैयारियों की जानकारी ली। इसके अलावा बैठक में बजट, खेलो की सूची, खिलाड़ियों के लिए खेल गांव बनाने समेत अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की गई। इस दौरान मुख्यमंत्री ने विभागीय अधिकारियों को अक्टूबर 2020 तक सभी तैयारियां पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि नेशनल गेम्स की तैयारियों के लिए प्रत्येक माह का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिसमें प्रत्येक माह इसकी समीक्षा की जाएगी। उन्होंने कहा कि जो भी कार्य किए जा रहें हैं उसके लिए खेल विशेषज्ञों व स्पो‌र्ट्स बाडी के साथ समन्वय बनाया जाए।

आइओए अधिकारी ने कार्य की सराहना की 

राष्ट्रीय खेल सचिवालय के कार्यालय के उद्घाटन अवसर पर पहुंची भारतीय ओलंपिक संघ की कार्यकारी निदेशक आइरीन कोशी ने विभाग के कार्यो की तारीफ की। बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि उत्तराखंड ने पिछले चार महीने में नेशनल गेम्स के आयोजन की तैयारियों पर बहुत तेजी से कार्य किया है, जोकि काबिले तारीफ भी है। उन्होंने कहा कि इसी तरह से तैयारियां चलती रही तो उत्तराखंड में 2021 में नेशनल गेम्स के आयोजन पर आइओए से मुहर आवश्यक लगेगी। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड की सीनियर महिला टी-20 टीम चयनित, सुनीता बनी कप्तान

विभाग ने आइओए को भेजा प्रस्ताव 

उत्तराखंड खेल विभाग ने उत्तराखंड में प्रस्तावित 38वें नेशनल गेम्स के आयोजन की मेजबानी का खाका तैयार कर भारतीय ओलंपिक संघ को भेज दिया है। जिसमें सभी 34 खेल व उनके आयोजन स्थल को चिह्नित कर भेजा है। विभागीय अधिकारियों के मुताबिक आइओए से जवाब मिलने के बाद इस पर कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड की इस सलामी जोड़ी में दिखी गांगुली और सहवाग की झलक

नेशनल गेम्स के लिए 900 करोड़ का केंद्र को भेजा प्रस्ताव

विभाग ने उत्तराखंड में 2021में प्रस्तावित नेशनल गेम्स के लिए 900 करोड़ के बजट का प्रस्ताव तैयार किया है। जिसके केंद्र सरकार से सहायता के लिए भेज दिया गया है। खेल मंत्री अरविंद पांडे ने बताया कि नेशनल गेम्स के आयोजन के लिए केंद्र सरकार से 900 करोड़ रुपये की सहायता मागी गई है। उन्होंने कहा कि केंद्र करीब 30 प्रतिशत धनराशि की स्वीकृति आमतौर से दे देता है लेकिन हमने इस बजट में हल्द्वानी स्टेडियम व अन्य अवस्थापनाओं को भी शामिल किया गया है। इसलिए उम्मीद है कि केंद्र इन सबको मद्देनजर रखते हुए उचित धनराशि स्वीकृत करेगा।

यह भी पढ़ें: बीसीसीआइ के कार्यकारी अध्यक्ष बोले, जल्द भारतीय टीम में दिखेंगे उत्तराखंड के क्रिकेटर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप