जागरण संवाददाता, देहरादून: दून में हॉट एयर बैलून का लुत्फ उठाना है तो पुलिस लाइन ग्राउंड आपका इंतजार कर रहा है। शनिवार व रविवार को दो दिन साविया एविएशन प्रा.लि. और पुलिस विभाग की ओर से हॉट एयर बैलूनिंग कराई जाएगी। शुक्रवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पुलिस लाइन ग्राउंड में हॉट एयर बैलून फेस्टिवल-2019 का उद्घाटन किया। हालांकि, हवा का रुख अनुकूल न होने के चलते पहले दिन उड़ान नहीं भरी जा सकी।

शुक्रवार को फेस्टिवल के उद्घाटन के अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड में हॉट एयर बैलूनिंग की अपार संभावनाएं हैं। पिछले साल भी इसका आयोजन किया गया था। इस दफा भी गौचर मेले में हॉट एयर बैलून उड़ाए गए। देहरादून में आयोजित इस फेस्टिवल से युवा स्वरोजगार की ओर प्रेरित होंगे और एविएशन के क्षेत्र में भी उनकी रुचि बढ़ेगी। इस अवसर पर एविएशन कंपनी के निदेशक अशोक ने बताया कि शनिवार व रविवार को पुलिस लाइन में लोगों को किफायती दरों पर हॉट एयर बैलून की सैर कराई जाएगी। इसके अलावा युवाओं को एविएशन सेक्टर की जानकारी दी जाएगी। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अरुण मोहन जोशी, डायरेक्टरेट जनरल सिविल एविएशन की डिप्टी चीफ फ्लाइंग ऑपरेशन इंस्पेक्टर श्वेता सिंह, आदि उपस्थित रहे। अनुकूल नहीं रहा हवा का रुख, सीएम की उड़ान रोकी

-बैलून पायलट ने ऐन वक्त पर उड़ान न कराने का लिया निर्णय

जागरण संवाददाता, देहरादून: पुलिस लाइन के मैदान में बड़े आकार के तीन हॉट एयर बैलून शुक्रवार सुबह से ही लांचिंग के लिए तैयार थे। हॉट एयर बैलून फेस्टिवल-2019 के उद्घाटन के अवसर पर इनकी उड़ान कराई जानी थी। दोपहर 12 बजे करीब मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी फेस्टिवल के उद्घाटन के लिए पुलिस लाइन ग्राउंड में पहुंच चुके थे।

कुछ ही देर में मुख्यमंत्री ने रिबन काटकर फेस्टिवल का उद्घाटन भी कर दिया। तीन बैलून के पायलट बैलून उड़ाने के लिए इसकी बास्केट में बैठ भी चुके थे। ट्रायल के लिए बैलून को कम ऊंचाई तक उड़ाया गया। हालांकि, हवा का रुख अनुकूल न होने और उसमें तेजी होने के चलते तीनों बैलून का संतुलन बिगड़ने लगा। पायलट व उनके सहयोगी एलपीजी की फ्लेम (लौ) व रस्सों के सहारे किसी तरह बैलून का संतुलन साधने का प्रयास कर रहे थे। क्योंकि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को भी बैलून में कुछ ऊंचाई पर उड़ान भरनी थी।

इसको लेकर साविया एविएशन कंपनी के निदेशक अशोक एक पायलट के पास पहुंचे और कहा कि वह उड़ान की तैयारी कर लें। बैलून पायलट ने चेताया कि इस समय उड़ान संभव नहीं है। यदि उड़ान भरी गई तो बैलून का संतुलन गड़बड़ा सकता है और अगले दो घंटे तक भी उड़ान के आसार नहीं हैं। इसके बाद मुख्यमंत्री की उड़ान को रद करना पड़ा और शाम तक भी हॉट एयर बैलून उड़ नहीं पाए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप