जागरण संवाददाता, हरिद्वार: Haridwar Panchayat Chunav 2022 : हरिद्वार जिले में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए सभी छह ब्लाकों में  85.13 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ। रात साढ़े दस बजे तक छह मतदान केंद्रों पर मतदान के लिए मतदाता लाइन में लगे रहे।

1491 बूथों पर मतदान के दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रहे। कुछ स्थानों पर झड़प और मारपीट की भी घटनाएं सामने आई हैं। माधोपुर गांव में मतदान केंद्र का भ्रमण करके आ रहे जिला पंचायत प्रत्याशी पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया। इस दौरान उनके कपड़े भी फट गए। झबरेड़ा और भगवानपुर में भी मारपीट और झड़प की घटनाएं हुई।

जिले के छह विकासखंड बहादराबाद, नारसन, रुड़की, भगवानपुर, लक्सर और खानपुर में त्रिस्तरीय पंचायतों के गठन के लिए सुबह आठ बजे मतदान शुरू हुआ। 4684 ग्राम पंचायत सदस्य, 2070 ग्राम प्रधान, 1535 क्षेत्र पंचायत सदस्य और 462 जिला पंचायत पदों के लिए होना वाला मतदान शुरुआत में थोड़ा धीमा रहा, लेकिन दोपहर बाद इसमें तेजी आई।

जिलाधिकारी विनय शंकर पांडेय ने बताया कि जिले में करीब 85.13 प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। जिलाधिकारी विनय शंकर पांडेय, एसएसपी डा योगेंद्र सिंह रावत ने संवेदनशील और अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने मतदान की धीमी गति पर नाराजगी जताते हुए इसमें तेजी लाने के निर्देश दिए।

धनपुरा मतदान केंद्र पर फैली अव्यवस्थाओं को लेकर भी डीएम ने नाराजगी जताई। स्याही सही से लगाने और बगैर पहचान पत्र के मतदान की अनुमति न देने के उन्होंने दिशा-निर्देश दिए। गैंडीखाता गुर्जर बस्ती में मतदान कक्ष में पोलिंग एजेंट की मौजूदगी पर भी डीएम नाराज हुए।

धनपुरा के राजकीय प्राथमिक विद्यालय में बने मतदान कक्ष में कई मतदाताओं की एक साथ उपस्थिति पर भी डीएम ने नाराजगी जताई। मतदान की प्रकिया शांतिपूर्ण, निष्पक्ष तथा पारदर्शितापूर्ण चलने पर संतोष व्यक्त किया।

प्रत्याशी और उसके समर्थक पर रुपए बांटने का आरोप

रुड़की के भगवानपुर क्षेत्र के सिकंदरपुर गांव में पंचायत चुनाव में जिला पंचायत सदस्य पद के एक प्रत्याशी और उसके समर्थक पर रविवार की रात रुपए बांटने का आरोप लगा है। इस दौरान मौके पर जमकर हंगामा हुआ।

पुलिस ने इस मामले में तीन लोग हिरासत में लिए हैं। अभी तक इस मामले में मुकदमा दर्ज नहीं किया है। प्रभारी निरीक्षक अमरजीत सिंह ने बताया कि मामले की जांच पड़ताल के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी

लगाई गई पांच हजार जवानों की ड्यूटी

  • एसएसपी डा. योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि पूरे चुनाव क्षेत्र को छह सुपर जोन, 18 जोन और 133 सेक्टर में बांटा गया है।
  • पांच हजार जवानों की ड्यूटी लगाई गई है।
  • साथ ही 208 संवेदनशील और 247 अति संवेदनशील बूथों पर कड़ा सुरक्षा पहरा रहेगा और मोबाइल फोन आदि ले जाने पर पाबंदी रहेगी।

हरिद्वार के चुनावी समर पर भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व की पैनी नजर

हरिद्वार जिले में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव भाजपा के लिए प्रतिष्ठा से जुड़ा प्रश्न है। इसे देखते हुए पार्टी पूरी ताकत झोंके हुए है। भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व भी इस पर नजर बनाए है और हरिद्वार की हर गतिविधि की जानकारी ली जा रही है।

असल में हरिद्वार जिला ऐसा है, जहां पिछले पंचायत और नगर निकाय चुनावों में भाजपा को आशानुरूप सफलता नहीं मिली थी। यही नहीं, इस वर्ष विधानसभा चुनाव में भी पार्टी को 11 में से केवल तीन सीटें ही मिल पाई थीं। हरिद्वार के इस चुनावी समर में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट के कौशल की परीक्षा भी होनी है। उनके अध्यक्ष बनने के बाद यह पहला मौका है, जब पार्टी जनता की चौखट पर है।

हरिद्वार के पंचायत चुनाव को भाजपा कितनी गंभीरता से ले रही है, इसका अंदाजा इसी से लगा सकते हैं कि पार्टी ने जिला पंचायत के सभी प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्रों (वार्डों) के लिए तीन-तीन प्रांतीय पदाधिकारियों को मोर्चे पर उतारा है।

शक्ति केंद्र व बूथ स्तर पर कार्यकर्ता पहले ही तैनात कर दिए गए थे। पन्ना प्रमुख लगातार ही उन्हें आवंटित मतदाता सूची के पृष्ठ में अंकित मतदाताओं से संपर्क साधने में जुटे हैं। इसके अलावा पार्टीजनों की टोलियां निरंतर जनसंपर्क में जुटी हैं।

सोमवार को होने वाले मतदान के मद्देनजर रविवार को सभी बूथों पर बस्ते आदि को लेकर कसरत चलती रही। भाजपा का एकमात्र लक्ष्य यही है कि त्रिस्तरीय पंचायतों में परचम लहराया जाए। इस कड़ी में हाल के दिनों में अन्य दलों के नेताओं को भी पार्टी में शामिल किया गया। ऐसे में अब सबकी नजर सोमवार को होने वाले मतदान के मत प्रतिशत पर टिक गई है।

हरिद्वार की जनता हमेशा ही भाजपा के साथ खड़ी रही है। मुझे पूरा विश्वास है कि पंचायत चुनाव में भी जनता भाजपा का साथ देगी। जिला, ब्लाक व ग्राम पंचायतों में भाजपा के बोर्ड बनेंगे।

-महेंद्र भट्ट, प्रदेश अध्यक्ष भाजपा

Edited By: Nirmala Bohra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट