जागरण संवाददाता, ऋषिकेश। Haridwar Kumbh 2021 महाकुंभ के तहत होने वाले स्नान से पहले त्रिवेणी घाट क्षेत्र में व्यवस्थाओं को परखने के लिए सचिव जिला विधिक प्राधिकरण देहरादून नेहा कुशवाह त्रिवेणी घाट पहुंची। यहां सिंचाई विभाग ने घाट के मरम्मत के कार्य को अभी तक पूरा नहीं किया गया है। इस पर उन्होंने अधिकारियों को 25 फरवरी तक कार्य पूरा करने के निर्देश दिए। 

उच्च न्यायालय नैनीताल ने कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा रही कार्यवाही और कुंभ के दौरान कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुपालन को लेकर सचिव जिला विधिक प्राधिकरण को निगरानी समिति का सदस्य बनाया है। सोमवार को सचिव विधिक प्राधिकरण नेहा कुशवाहा त्रिवेणी घाट पहुंची। उन्होंने सुरक्षा व्यवस्था सहित यहां आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधाओं को लेकर मौके का व्यापक निरीक्षण किया। 

यहां वर्तमान में सिंचाई विभाग त्रिवेणी घाट की मरम्मत का कार्य कर रहा है। यह कार्य अभी भी जारी है, जिससे श्रद्धालुओं को स्नान के रोज परेशानी उठानी पड़ सकती है। त्रिवेणी घाट पर जगह-जगह फैली निर्माण सामग्री और अभी तक जारी कार्य पर सचिव विधिक प्राधिकरण ने नाखुशी जताई। उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि जल्द से जल्द इस काम को पूरा कर लिया जाए। अधिकारियों ने आश्वासन दिया कि 25 फरवरी तक इस कार्य को समाप्त कर लिया जाएगा। सचिव नेहा कुशवाहा ने बताया कि 11 मार्च महाशिवरात्रि को भी स्नान के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु यहां पहुंचेंगे। इस बात को हमें नजरअंदाज नहीं करना है।

उन्होंने कहा कि भीड़ को देखते हुए यहां पर्याप्त सुरक्षा और सुविधा उपलब्ध कराने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। भीड़ को देखते हुए कोविड की गाइडलाइन का हर हालत में अनुपालन कराया जाएगा। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम को निर्देशित किया जा रहा है। पुलिस और नगर निगम की टीम भी मास्क व शारीरिक दूरी का पालन सुनिश्चित कराने के लिए टीम की तैनाती करेगी। इस मौके पर सहायक नगर आयुक्त विनोद लाल, घाट चौकी प्रभारी उत्तम रमोला आदि मौजूद रहे। 

यह भी पढ़ें- Haridwar Kumbh 2021: कुंभ मेला क्षेत्र में होंगे 10 हजार अस्थायी शौचालय, 1670 स्नानागार की भी रहेगी व्यवस्था

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप