जागरण संवाददाता, देहरादून : मसूरी में सोमवार सुबह 10 बजे शुरू हुई बारिश थमने का नाम नहीं ले रही है। मसूरी में बारिश को लगातार 36 घंटे से अधिक समय हो गया है। इधर, देहरादून में भी करीब 28 घंटे से बारिश जारी है। लगातार हो रही बारिश से जन जीवन तो प्रभावित है ही दून समेत मसूरी में शीत का प्रकोप बढ़ गया है। मौसम के बिगड़े मिजाज के बीच अधिकतम तापमान में पांच से सात डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आ गई है। फिलहाल बुधवार को भी दून-मसूरी में मौसम के मिजाज में कोई सुधार होने की गुंजाइश नहीं है। जबकि मसूरी में बर्फबारी की संभावना बनी हुई है। ऐसे में दून और मसूरी में भी शीत दिवस की संभावना है।

लगातार हो रही बारिश ने दून की रफ्तार धीमी कर दी। अधिकतम तापमान में आई भारी गिरावट से दिनभर ठिठुरन बनी रही। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि अभी दून और आसपास के क्षेत्रों का मौसम ऐसा ही बना रहेगा। बुधवार को दून मसूरी में दिनभर बारिश होती रही, जबकि सुरकंडा और चकराता की चोटियों पर भारी हिमपात हुआ। इसके अलावा धनोल्टी में बारिश का दौर जारी रहा। आज भी मसूरी समेत आसपास के इलाकों में बारिश और बर्फबारी की संभावना बनी हुई है।

----------

दून में रिकॉर्ड सात डिग्री सेल्सियस गिरा पारा

दो दिन से हो रही बारिश के कारण अधिकतम तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है। दून का तापमान सामान्य से सात डिग्री सेल्सियस, जबकि मसूरी का अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री सेल्सियस कम रहा। मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार अभी दून और मसूरी के न्यूनतम तापमान में भी गिरावट आएगी और शीत दिवस जैसे हालात बन सकते हैं। मंगलवार को दून का अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 12.5 और 10.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। वहीं, मसूरी का अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 5.9 और 1.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसके अलावा बुधवार को दून का अधिकतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम सात डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। ----------

बारिश के चलते दफ्तर-बाजार रहे सूने

सोमवार रात से लगातार हो रही बारिश के कारण दून में अधिकांश सरकारी दफ्तरों में सन्नाटा पसरा रहा। जबकि, बाजारों में भी कमोबेश यही आलम रहा। बारिश के कारण सड़कों में अधिकांश चौपहिया वाहन ही दौड़ते दिखे। इस कारण प्रमुख मार्र्गो पर जाम की स्थिति भी रही। उधर, पलटन बाजार समेत इंदिरा मार्केट, घंटाघर, तिब्बती मार्केट आदि में अन्य दिनों की अपेक्षा भीड़-भाड़ बेहद कम रही। अधिकांश सरकारी दफ्तरों में कार्मिक भी कम ही नजर आए, जबकि आमजन ने भी सरकारी दफ्तरों से दूरी बनाए रखी। हालांकि, तहसील दिवस होने के कारण कई अधिकारी और फरियादी तहसील में रहे।

मसूरी-धनोल्टी मार्ग पर यातायात रोका

बर्फबारी के चलते टिहरी प्रशासन ने मसूरी-धनोल्टी मार्ग पर फिलहाल यातायात रोक दिया है। प्रशासन के अनुसार मौसम की चेतावनी को देखते हुए यह कदम उठाया गया है। पिछले दिनों इस मार्ग पर 500 से ज्यादा पर्यटक फंस गए थे, जिन्हें आइटीबीपी की मदद से निकाला गया था।

बादलों के आगोश में मसूरी

मसूरी में दिनभर हल्की बारिश जारी रही, जबकि दोपहर से ही पूरा शहर बादलों से घिरा रहा और दृश्यता घटकर 15 फीट तक रही। वाहन चालकों को दिन में ही हेडलाइट जलाकर वाहन चलाने पड़े। कड़ाके की ठंड के कारण अधिकांश लोग भी घरों से बाहर नहीं निकले। पर्यटकों ने भी अधिकांश समय होटल में ही बिताया। मसूरी से लगे यमुना, अगलाड़ व भद्रीघाटी के काश्तकार बारिश होने से खुश हैं। उधर, समीपवर्ती सुरकंडा की पहाड़ियों पर जोरदार हिमपात हुआ है, लेकिन धनोल्टी में भी दो दिनों से बारिश ही हो रही है।

-------

-फोटो-7 एमएसआरपी-1. कोहरे में लिपटी मसूरी

7 एमएसआरपी-2 व 3. दिन में हैडलाइट्स जलाकर चलते वाहन।

-------

विभिन्न शहरों में तापमान

शहर, अधि. न्यून.

देहरादून 12.5 10.1

उत्तरकाशी 11.6 2.8

मसूरी 05.9 1.1

टिहरी 04.0 1.8

हरिद्वार 15.4 10.4

जोशीमठ 04.8 1.2

पिथौरागढ़ 08.4 1.1

अल्मोड़ा 08.2 2.6

मुक्तेश्वर 05.4 0.3

नैनीताल 09.2 3.0

यूएसनगर 18.0 10.8

चम्पावत 08.6 2.4

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस