देहरादून, जेएनएन। शासन ने 18 आइएएस और वित्त सेवा के एक अधिकारी के दायित्वों में बदलाव किया है। अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी की जिम्मेदारियों में इजाफा करते हुए उन्हें तकनीकी शिक्षा और अध्यक्ष परिवहन निगम जैसे अहम पदभार सौंपे गए हैं। अपर मुख्य सचिव मनीषा पंवार को कृषि उत्पादन आयुक्त का भी जिम्मा दिया गया है।

बुधवार को कार्मिक विभाग द्वारा जारी आदेशों के अनुसार प्रमुख सचिव आनंद वद्र्धन को प्रमुख सचिव खनन तथा अवस्थापना विकास आयुक्त, उत्तराखंड का जिम्मा सौंपा गया है। सचिव एल फैनई से महानिदेशक व आयुक्त उद्योग की जिम्मेदारी वापस ली गई है। सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम से कृषि शिक्षा, कृषि एवं कृषि विपणन और उद्यान विभाग हटाया गया है। 

शैलेश बगोली को सचिव आवास तथा मुख्य प्रशासक उत्तराखंड आवास एवं नगर विकास प्राधिकरण की जिम्मेदारी दी गई है। उनसे सचिव आपदा प्रबंधन का जिम्मा वापस लिया गया है। विदेश सेवा से वापस लौटे डी सेंथिल पांडियन को सचिव आयुष एवं आयुष शिक्षा का जिम्मा दिया गया है। सचिव नितेश कुमार झा से आवास विभाग का जिम्मा हटाया गया है। सचिव राधिका झा से ग्रामीण निर्माण विभाग की जिम्मेदारी वापस ली गई है। सचिव हरबंश सिंह चुघ से गन्ना चीनी विभाग वापस लेकर उन्हें कृषि शिक्षा एवं कृषि विपणन तथा उद्यान विभाग का जिम्मा दिया गया है। सचिव दिलीप जावलकर से आयुष एवं आयुष शिक्षा विभाग वापस लिया गया है। प्रभारी सचिव एसए मुरुगेशन को महानिदेशक व आयुक्त उद्योग का जिम्मा दिया गया है।

 प्रभारी सचिव हरिचंद्र सेमवाल को आबकारी, पंचायती राज तथा निदेशक पंचायती राज का जिम्मा दिया गया है। प्रभारी सचिव बृजेश कुमार संत से पंचायती राज विभाग हटाकर ग्रामीण निर्माण विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है। प्रभारी सचिव चंद्रेश कुमार यादव को जनगणना, गन्ना चीनी, शहरी विकास विभाग का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। अपर सचिव डॉ. नीरज खैरवाल को प्रबंध निदेशक पिटकुल की जिम्मेदारी दी गई है। नगर आयुक्त, नगर निगम देहरादून विनय शंकर पांडेय को अपर सचिव शहरी विकास विभाग का जिम्मा दिया गया है। डॉ. अहमद इकबाल को निदेशक ऑडिट का भी जिम्मा दिया गया है। वहीं, वित्त सेवा से अपर सचिव अमिता जोशी से निदेशक ऑडिट का पदभार वापस लिया गया है। 

यह भी पढ़ें: उत्‍तराखंड शासन ने पांच आइएएस और चार पीसीएस समेत 14 अधिकारियों के बदले पदभार, पढ़िए पूरी खबर

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप