देहरादून, [राज्य ब्यूरो]: बहुचर्चित एनएच-74 मुआवजा प्रकरण की जांच कर रहे ऊधमसिंह नगर के एसएसपी डॉ. सदानंद दाते को शासन ने सीबीआई के लिए रिलीव कर दिया है। उनके स्थान पर आइपीएस कृष्ण कुमार वीके को लाया गया है। वह एसएसपी हरिद्वार की जिम्मेदारी देख रहे थे। शासन ने एसटीएफ की कमान संभाल रही आइपीएस रिद्धिम अग्रवाल को एसएसपी हरिद्वार की जिम्मेदारी दी है।

आइपीएस बरिंदरजीत सिंह को उनके स्थान पर एसएसपी एसटीएफ का दायित्व दिया गया है। वह मुख्यालय में तैनात थे। ऊधमसिंह नगर के एसएसपी सदानंद दाते, देहरादून और हरिद्वार जैसे जनपदों में कप्तान का पद संभाल चुके हैं। ऊधमसिंह नगर में एसआइटी की कमान संभालने के बाद उन्होंने एनएच 74 (हरिद्वार-ऊधमसिंहनगर-बरेली) मुआवजा प्रकरण की भी जांच की। 

उन्होंने इस हाईप्रोफाइल मामले में शासन में तैनात दो आइएएस अधिकारियों को भी इसमें आरोपी बनाकर शासन में हड़कंप मचा दिया था। इस बीच गृह मंत्रालय ने इसी वर्ष जून में उन्हें सीबीआइ में लेने के लिए प्रदेश सरकार को पत्र लिखा था। तब प्रदेश सरकार ने एनएच 74 प्रकरण की जांच का हवाला देते हुए उन्हें रिलीव करने में असमर्थता जताई थी। अब एनएच 74 प्रकरण की जांच तकरीबन फाइनल हो चुकी है।

ऐसे में शासन ने उनको सीबीआइ के लिए रिलीव कर दिया है। शासन की ओर से जारी आदेशों के तहत आइपीएस डॉ. सदानंद दाते को तत्काल प्रभाव से कार्यमुक्त करते हुए उन्हें गृह मंत्रालय के आदेशों के क्रम में सीबीआइ में कार्यभार ग्रहण करने को कहा गया है। माना जा रहा है कि उन्हें सीबीआइ मुंबई में तैनाती दी जा सकती है। इसके अलावा शासन ने हरिद्वार व ऊधमसिंह नगर के साथ ही एटीएफ में नए एसएसपी तैनात किए हैं।

यह भी पढ़ें: एनएच 74 घोटाले में आरोपित कुछ अफसर हो सकते हैं बहाल

यह भी पढ़ें: एनएच मुआवजा घोटाला: जवाब के आधार पर होगी जांच अधिकारी की नियुक्ति

यह भी पढ़ें: एनएच मुआवजा घोटाला: आइएएस पंकज पांडे को हाईकोर्ट से नहीं मिली राहत