जागरण संवाददाता, देहरादून। राज्य और निगम कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ने के बाद अब रोडवेज के विशेष श्रेणी और संविदा चालक-परिचालकों के वेतन में भी इजाफा हो गया है। सरकार की ओर से राज्य व निगम कर्मचारियों को महंगाई भत्ते में 17 प्रतिशत से बढ़ाकर 28 प्रतिशत की गई बढ़ोत्तरी के सापेक्ष रोडवेज प्रबंधन ने विशेष श्रेणी एवं संविदा चालकों व परिचालकों का भी मासिक वेतन महंगाई भत्ते के अनुसार बढ़ाने के आदेश जारी कर दिए। इससे तकरीबन 3000 चालक-परिचालकों को लाभ मिलेगा।

रोडवेज प्रबंधन ने पांच दिन पहले तकरीबन 3700 नियमित कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ाया था। इसमें विशेष श्रेणी और संविदा कर्मियों को कोई लाभ नहीं दिया गया। जिससे नाराज उत्तरांचल रोडवेज कर्मचारी यूनियन के प्रांतीय महामंत्री अशोक चौधरी ने प्रबंध निदेशक को आंदोलन का नोटिस दिया था। गुरुवार सुबह भी प्रबंधन ने यूनियन के प्रदेश महामंत्री को बातचीत के लिए बुलाया, लेकिन यूनियन अपनी मांग पर अड़ी रही। आंदोलन से बचने के लिए प्रबंधन ने यूनियन की मांग के अनुसार फैसला लिया।

इसमें निगम में चालकों को मैदानी मार्ग पर अब 2.48 रुपये के बजाए 2.61 रुपये जबकि पर्वतीय मार्ग पर 2.93 रुपये के बजाए 3.06 रुपये प्रति किलोमीटर मानदेय मिलेगा। इसी तरह परिचालकों को मैदानी मार्ग पर 2.11 रुपये के बजाय 2.22 रुपये जबकि पर्वतीय मार्ग पर 2.48 रुपये के बजाय 2.59 रुपये मिलेंगे। रोडवेज महाप्रबंधक दीपक जैन ने बताया कि यह आदेश गत एक नवंबर से लागू माने जाएंगे।

प्रबंध निदेशक से मिले युवा

रोडवेज में नियुक्ति की मांग लेकर गत 17 दिन से आंदोलन कर रहे युवाओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने गुरुवार को रोडवेज के प्रबंध निदेशक अभिषेक रुहेला से मुलाकात की। युवाओं ने दो साल पूर्व हुए चयन के मुताबिक उन्हें शीघ्र नियुक्ति देने की मांग की। इसके साथ ही गांधी पार्क के बाहर धरने पर बैठे युवाओं का रोडवेज प्रबंधन व सरकार के खिलाफ आंदोलन जारी रहा। इस दौरान रजनीकांत, विनोद गैरोला, विनोद कुमार, सत्यदेव, अनूप कुमार आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- Uttarakhand Holiday 2022 List: उत्तराखंड में सार्वजनिक अवकाशों की सूची जारी, यहां देखें सालभर में कितनी छुट्टियां

Edited By: Raksha Panthri