संवाद सूत्र, चकराता: प्रदेश सरकार की महत्वकांक्षी गौरा देव कन्या धन योजना का लाभ छात्राओं को नहीं मिल पा रहा है। त्यूणी व चकराता क्षेत्र के गांवो की छात्राएं योजना का लाभ लेने के लिए एक से दूसरे विभागों के चक्कर काट रही हैं। योजना का लाभ नहीं मिलने पर छात्राओं ने उप जिलाधिकारी चकराता से भेजे गए आवेदनों पर कार्रवाई की मांग की है।

राज्य सरकार की ओर से छात्राओं के लिए संचालित की जाने वाली महत्वपूर्ण गौरा देवी कन्या धन योजना का लाभ चकराता-त्यूणी क्षेत्र की छात्राओं को नहीं मिल पा रहा है। छात्राओं का कहना है कि उन्होंने 2017 में राजकीय इंटर कॉलेज अटाल से इंटरमीडिएट की परीक्षा उत्तीर्ण की थी। इस दौरान उन्होंने योजना के तहत आवेदन भी जमा कराए थे, लेकिन तीन साल बीत जाने के बाद भी उनके आवेदनों के संबंध में किसी प्रकार की कोई कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई। छात्राओं ने जब समाज कल्याण विभाग के कार्यालय में जानकारी की तो उन्हें यहां से बाल विकास परियोजना कार्यालय भेज दिया गया। अब छात्राओं का कहना है कि जब वह परियोजना कार्यालय में अधिकारियों से मिली तो उन्हें उनके क्षेत्रों की आंगनबाड़ी कार्यकत्र्ताओं के पास लौटा दिया गया। छात्राओं का कहना है कि आंगनबाड़ी कार्यकत्र्ताओं के पास न तो उनके आवेदन हैं और न ही कोई जानकारी। छात्राओं ने चकराता की एसडीएम को पत्र लिखकर योजना का लाभ दिलाने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने की मांग की है। पत्र देने वालों में पूजा गौड़, अंजना, प्रीति, पूनम वर्मा, अमिता, अर्चना, अनीता आदि शामिल हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021