देहरादून, जेएनएन। किटी के नाम पर दून वासियों से लाखों की धोखाधड़ी थमने का नाम नहीं ले रही है। पीड़ित ने पांच कारोबारी एवं किटी संचालकों के खिलाफ 15 लाख रुपये हड़पने और वापस मांगने पर गालीगलौज, जान से मारने की धमकी देने का मुकदमा दर्ज कराया है।

योगेश खेड़ा पुत्र रमेश खेड़ा निवासी मच्छी बाजार ने शहर कोतवाली पुलिस को इस संबंध में तहरीर की। बताया कि अमरजीत उर्फ बंटी की मच्छी बाजार में मीत दूल्हा बाजार नाम से कपड़ों की दुकान है। दुकान पर बंटी के कारोबारी दोस्तों जसपाल सिंह मूंगा, कंवरजीत सिंह उर्फ पिंकू, देवेंद्र्र और रविंद्र उर्फ राणू का भी आना जाना है। पांचों मिलकर किटी कमेटी का भी काम करते हैं।

आरोप है कि इन्होंने साजिश के तहत चिट फंड में कम समय धन दोगुना करने का झांसा दिया। 2017 में शिकायतकर्ता भी इनके झांसे में आ गया। इसी साल उसने खुद व तीन दोस्तों की किटी जमा करवाई। इसमें प्रति व्यक्ति 21,500 रुपये प्रतिमाह जमा करता था। इस तरह पांचों ने कुल 15 लाख रुपये किटी के नाम पर जमा करा लिए। 

यह भी पढ़ें: किटी के नाम पर दंपती और बेटी ने लोगों से हड़पे लाखों रुपये Dehradun News

दो साल बाद 2019 में जब किटी की जमा रकम वापस मांगी तो पांचों टालमटोल करते रहते। बीती एक फरवरी 2019 की दोपहर को शिकायतकर्ता योगेश अपने पिता रमेश कुमार, दोस्त रवि साहनी व अन्य के साथ रुपये लेने अमरजीत की दुकान पर पहुंचा। इस पर पांचों किटी संचालकों ने उनके साथ गाली गलौज, मारपीट व जान से मारने की धमकी दी। इधर, तहरीर के आधार पर कोतवाली पुलिस ने पांचों आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें: फरार चल रहा प्रॉपर्टी डीलर गिरफ्तार, फर्जी दस्तावेजों से किया था जमीनी सौदा

Posted By: Bhanu

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस