देहरादून, राज्य ब्यूरो। भाजपा की सत्ता की कोख बूथ है, सत्ता का उद्गम बूथ कार्यकर्ता है। मैं देवभूमि और देवतुल्य बूथ पदाधिकारियों को नमस्कार करता हूं। उम्मीद करता हूं कि 2022 के विस चुनाव में पूर्व से मजबूत होकर जीत दर्ज करेंगे। कुछ इस अंदाज में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बूथ कार्यकर्ताओं में जोश भरा। वह दून में एक बूथ सम्मेलन में कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। इससे पहले देहरादून पहुंचने पर जेपी नड्डा का कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया। 

शुक्रवार को सुभाष रोड स्थित एक बैंक्वेट हाल में बूथ सम्मेलन का शुभारंभ जेपी नड्डा, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू, प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने दीप प्रज्जवलित कर किया। नड्डा ने बूथ कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पहाड़ के लोगों की जीवन शैली देवतुल्य होती है इसलिए वे समाज को दृष्टि व दिशा देने में सक्षम होते हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान में भाजपा के 385 सांसद, 400 सहयोगी दल, 1451 विधायक और 15 राज्यों में सरकार है। भाजपा आज विश्व की सबसे बड़ी पार्टी बन गई है, महज 54 दिनों के सदस्यता अभियान में सदस्यों की संख्या 11 करोड़ से बढ़कर 17 करोड़ हो गई। उत्तराखंड में भी 11 लाख से बढ़कर 17 लाख सदस्य हो गए। यह सब बूथ कार्यकर्ता की मेहनत से ही संभव हो सका। 

नड्डा ने कार्यकर्ताओं को समझाने वाले लहजे में कहा कि राजनीति में दो कार्यकर्ता होते हैं दूरगामी और तात्कालिक। तात्कालिक में छोटे इरादे और छोटे लक्ष्य देखे जाते हैं जबकि दूरगामी में पार्टी और देश की सेवा देखी जाती है, बूथ कार्यकर्ता नजदीक का चश्मा उतारकर दूर का पहन ले। ध्यान रखे कि उनकी उंगली से दबाने से कोई नेता नहीं बल्कि देश की तकदीर और तस्वीर बदलती है। नेशन फर्स्ट पार्टी सेकेंड कहने से नहीं करने से होता है इसलिए मजबूत सरकार बनाने में योगदान दे ताकि देश मजबूत हो। भाजपा कार्यकर्ताओं की ड्यूटी है कि वे चमड़ी और दमड़ी से पार्टी की सेवा करें। उन्होंने कहा कि राजनीति में बाई च्वाइस, बाई एक्सीडेंट, बाई चांस आते हैं लेकिन ईश्वर की कृपा है कि वे सब भाजपा में ही आए। 

भाजपा में अब सिर्फ इन कमिंग ही इन कमिंग है, आउट गोइंग नहीं है यह बूथ कार्यकर्ताओं की ही ताकत का परिणाम है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी की कूट नीति ही है कि सऊदी अरब और ईरान, अमेरिका और चीन दोनों भारत के मित्र हैं। इसी तरह त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी प्रदेश में पारदर्शी सरकार बनाई है। यहां विकास कार्यों में तेजी आई है, 17 लाख परिवारों को आयुष्मान से जोड़ा यही डबल इंजन है। अंत में कार्यक्रम स्थल में मौजूद कार्यकर्ताओं से भाजपा की विचार धारा से जुड़कर आगे बढऩे पर जोर दिया। इस दौरान महापौर सुनील उनियाल गामा, विधायक हरबंस कपूर, सहदेव पुंडीर, विनोद चमोली, खजान दास, गणेश जोशी, सांसद माला राज्य लक्ष्मी शाह, विनय गोयल, रवींद्र राजू, अजय कुमार, राजीव उनियाल, श्याम पंत आदि मौजूद थे। 

पांच कार्यालयों का किया उद्घाटन 

राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने हरिद्वार, अल्मोड़ा, बागेश्वर, चंपावत, चमोली के कार्यालय का उद््घाटन किया। उन्होंने कहा कि भाजपा पांच क कार्यकर्ता, कार्यक्रम, कार्यकारिणी, कोष और कार्यालय से चलती है। अब भाजपा के हर जिले में कार्यालय है। इस कार्यालय में कांफ्रेंस हाल, मिनी मीटिंग हाल, कंप्यूटराइज्ड आफिस होगा। जो पार्टी कार्यकर्ताओं की सभी दस्तावेजों की भी देखभाल करेगा। 

बिफर गए दायित्वधारी

राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष नड्डा के स्वागत समारोह में मुख्यमंत्री से पार्षद, मंडल, बूथ और यूथ कार्यकर्ताओं को मंच पर बुलाया गया। वहीं कई दायित्वधारी भी सम्मेलन में पहुंचे थे लेकिन उन्हें मंच पर नहीं बुलाया गया। इससे वे बिफर गए और उन्होंने आपत्ति जताई। इसके बाद उन्हें कार्यक्रम के बीच में बुलाया गया।

उत्तराखंड की राजनीति जवान हो रही: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि किसी भवन की मजबूती उसकी मजबूत नींव पर निर्भर करती है। बूथ सदस्यों की बदौलत छह लाख नए सदस्य जुड़कर कुल संख्या 11 से 17 लाख हो गई। बूथ कार्यकर्ताओं के दम पर ही विस चुनाव में चार फीसदी वोट प्रतिशत बढ़ा। 11 जिपं अध्यक्ष इनमें नौ पर महिलाएं है। जब महिलाएं आर्थिक सशक्त होगी तो प्रदेश का विकास होगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में 21 से 30 साल के  क्षेत्र पंचायत, जिला पंचायत सदस्य जीते। कई ब्लॉक प्रमुख बने इस तरह उत्तराखंड की राजनीति आज जवान हो गई। यह जवान पीढ़ी प्रदेश के विकास को धार देगी। 

वोट देने की स्याही का धब्बा नहीं मिटा,  अनुच्छेद 370 का धब्बा मिटा दिया : जाजू

प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू ने भाजपा कार्यालय के सभागार को स्व. प्रकाश पंत सभागार का नाम देने पर खुशी जताते हुए कहा कि संचार का सबसे तेज माध्यम फीमेल है, यदि कोई बात बताओ तो तेजी से फैलती है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार के एक संत ने उनसे कहा कि लोस चुनाव में दिए वोट की स्याही का धब्बा नहीं हटा और सरकार ने 370 का धब्बा हटा दिया। पीएम मोदी की बदौलत ही राम मंदिर, करतारपुर कोरिडोर में दर्शन करने श्रद्धालु जा रहे हैं, यह तभी संभव है जब मजबूत सरकार है और मजबूत सरकार बूथ कार्यकर्ताओं ने ही दी। 

कार्यकर्ताओं ने जुटा दिए 25 करोड़: अजय भट्ट 

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि पार्टी की रीढ़ बूथ कार्यकर्ता है, बूथ ही असली भाजपा है। उन्होंने कहा कि पहले दबिश जाने पर पुलिस फरियादी से खर्च मांगती थी अब ऐसा नहीं है हर थाने को बजट दिया गया है। भट्ट ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं ने ही बिना अधिकारियों के पास जाए घर-घर दुकान-दुकान जाकर 25 करोड़ का कोष जुटा दिया। जो कि एक उपलब्धि है।

इससे पहले भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा का दून में भव्य स्वागत हुआ। बड़ी संख्या में पहुंचे पार्टी कार्यकर्ताओं ने फूलों की बारिश कर नड्डा का स्वागत किया। इस दौरान कार्यकर्ता पार्टी अध्यक्ष और भाजपा के पक्ष में जोरदार नारेबाजी भी करते रहे। गुरुवार को सुबह करीब 11 बजे जेपी नड्डा का काफिला रिस्पना पुल पहुंचा, जहां सड़क किनारे बनाए गए अस्थायी मंच पर कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। नड्डा यहां करीब 10 मिनट रुके। इस दौरान कार्यकर्ता उन पर फूलों की बारिश के साथ पार्टी के पक्ष में नारेबाजी करते रहे। यहां कार्यकर्ताओं में अध्यक्ष से हाथ मिलाने और साथ में सेल्फी लेने की होड़ भी लगी रही। 

यहीं पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट भी नड्डा के स्वागत को पहुंच गए। यहां से काफिला फौव्वारा चौक की ओर रवाना हुआ। जहां पहले से भाजपा विधायकों और पदाधिकारियों समेत बड़ी संख्या में मौजूद पार्टी कार्यकर्ता हाथों में फूल और गुब्बारे लिए मौजूद थे। करीब सवा 11 बजे नड्डा का काफिला फौव्वारा चौक पहुंचा। 

नड्डा के पहुंचते ही कार्यकर्ता गर्मजोशी के साथ नारे लगाने लगे और काफिले पर फूलों की बारिश करने लगे। फौव्वारा चौक से काफिला बिना रुके भाजपा प्रदेश कार्यालय की ओर धीरे-धीरे आगे बढ़ा। एक ओपन एसयूवी कार में राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट समेत अन्य पदाधिकारी कार्यकर्ताओं का अभिवादन स्वीकारते आगे बढ़ रहे थे। 

कार्यकर्ता सड़क के दोनों छोर से फूलों की बारिश कर आसमान में गुब्बारे छोड़ रहे थे। इसी तरह करीब पौने 12 बजे काफिला पार्टी कार्यालय पहुंच गया। जहां पहले से तैयार मंच पर खड़े ऋषिकुमारों ने ढोल-दमाऊ और रंणसिंघे की ध्वनि के बीच मंत्रोच्चार के साथ जेपी नड्डा का स्वागत किया। कार्यलय के गेट पर स्वागत करने के लिए पार्टी के तमाम विधायक, प्रदेश व महानगर के पदाधिकारी मौजूद थे। यहां से कार से उतरकर नड्डा ने कार्यलय में प्रवेश किया तो तमाम कार्यकर्ता उन्हें पुष्पगुच्छ भेंट करने और हाथ मिलाने के लिए धक्का-मुक्की करने लगे। सुरक्षा कर्मियों ने भीड़ के बीच से नड्डा को बामुश्किल कार्यलय के भीतर प्रवेश कराया। 

ढोल-दमाऊ की थाप पर थिरके कार्यकर्ता

राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष के कार्यलय में पहुंचने के बाद बाहर प्रांगण में एकत्रित कार्यकर्ता ढोल-दमाऊ थाप पर थिरकने लगे। पार्टी पक्ष में नारे लगाते हुए पुरुष व महिला कार्यकर्ता जमकर नाचे।

स्कूटी पर सवार महिला कार्यकर्ताओं ने की अगुआई

भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष के काफिले की अगुआई दर्जनों स्कूटियों पर सवार महिला कार्यकर्ताओं ने की। केसरिया पोशाक में पहुंची महिला कार्यकर्ताओं ने केसरिया पगड़ी पहनी हुई थी और सबसे आगे चलते हुए पार्टी के पक्ष में नारेबाजी कर रहीं थीं।

यह भी पढ़ें: जेपी नड्डा के दौरे का कार्यक्रम जारी, बैठकों और बूथ सम्मेलन को करेंगे संबोधित

स्कूटी पर सवार महिला कार्यकर्ताओं ने की अगुआई

भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष के काफिले की अगुआई दर्जनों स्कूटियों पर सवार महिला कार्यकर्ताओं ने की। केसरिया पोशाक में पहुंची महिला कार्यकर्ताओं ने केसरिया पगड़ी पहनी हुई थी और सबसे आगे चलते हुए पार्टी के पक्ष में नारेबाजी कर रहीं थीं।

यह भी पढ़ें: टीएचडीसी बचाने को कांग्रेस करेगी टिहरी कूच: हरीश रावत

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप