ऋषिकेश, [जेएनएन]: अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश से निकाले गए आउटसोर्स कर्मचारियों ने बुधवार से आमरण अनशन शुरू कर दिया है।

पिछले 18 दिन से यह कर्मचारी धरना प्रदर्शन के पश्चात क्रमिक अनशन पर बैठे थे। आंदोलन स्थल पर उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय प्रवक्ता शांति प्रसाद भट्ट और राजेंद्र प्रसाद गैरोला ने आंदोलन को अपना समर्थन देते हुए इस मामले में सरकार की चुप्पी पर सवाल खड़े किए हैं।

निष्कासित कर्मचारी अमित कंडियाल ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष मुख्यमंत्री भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री सहित कई लोगों से मिलकर हमने अपनी बात रखी, लेकिन सभी जगह से आश्वासन के अलावा कुछ नहीं मिला। आमरण अनशन में दीपक पयाल अमित कंडियाल शामिल है।

यह भी पढ़ें: एम्‍स ऋषिकेश से निकाले गए कर्मचारियों ने दिखाई गांधीगिरी, खोली चाय की दुकान

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में चरमराई स्वास्थ्य सेवाएं, कोरोनेशन में न ऑपरेशन-अल्ट्रासाउंड

Posted By: Sunil Negi