जागरण संवाददाता, ऋषिकेश। लक्ष्मणझूला-नीलकंठ मोटर मार्ग पर फूलचट्टी के समीप बीती रात हाथी ने जमकर उत्पात मचाया। हाथी ने एक व्यक्ति को पटक कर मार डाला, जबकि सड़क पर बनी तीन कच्ची दुकानों को भी तहस-नहस कर दिया। एक वाहन पर भी हाथी ने हमला किया, जिसमें सोए चालक ने बड़ी मुश्किल से अपनी जान बचाई।

जानकारी के मुताबिक रविवार रात करीब एक बजे एक हाथी लक्ष्मणझूला-नीलकंठ मार्ग पर स्थित फूलचट्टी मुख्य मार्ग पर आ धमका। हाथी ने यहां खड़े एक टेंपो ट्रैवलर पर हमला बोला और टेंपो ट्रैवलर को पलटने की कोशिश की। टेंपो ट्रैवलर में उसका चालक सोया हुआ था। हाथी ने टेंपो ट्रैवलर का शीशा तोड़कर चालक को बाहर खींचने का प्रयास किया। मगर, चालक ने किसी तरह वाहन के भीतर ही छुपकर जान बचाई। 

गुस्साए हाथी ने समीप ही सड़क किनारे बनी नरेंद्र भंडारी, सोहन सिंह भंडारी और श्रीपाल नेगी की अस्थाई दुकानों को तहस-नहस कर दिया। इस बीच यहां मौजूद एक व्यक्ति भी हाथी के सामने आ गया, जिसे हाथी ने पटक-पटक कर मार डाला। करीब एक घंटे तक हाथी का उत्पात बना रहा। वहीं, मृतक की शिनाख्त कपिल (46 वर्ष) निवासी बिजनौर उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है। थाना प्रभारी निरीक्षक लक्ष्मणझूला प्रमोद उनियाल ने बताया कि मृतक एक क्रेन ऑपरेटर के साथ सहायक का काम करता था। रात को वह फूलचट्टी क्षेत्र में क्रेन खराब होने के कारण पैदल ऋषिकेश आ रहा था।

हादसे के बाद सूचना पाकर तड़के लक्ष्मण झूला थाने से पुलिस और राजाजी टाइगर रिजर्व की गौहरी रेंज से वनकर्मी मौके पर पहुंचे। हाथी द्वारा मारे गए व्यक्ति का शव पुलिस ने कब्जे में लेकर एम्स ऋषिकेश की मोर्चरी में भेज दिया है। पुलिस के मुताबिक अभी तक मृतक की पहचान नहीं हो पाई है। इतना पता चला है कि मृतक बिजनौर का रहने वाला है।

यह भी पढ़ें- खेत में करंट की चपेट में आकर हाथी की मौत,वन विभाग ने खेत मालिक के खिलाफ दर्ज किया मुकदमा

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Raksha Panthri