जागरण संवाददाता, देहरादून: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भिलंगना ब्लॉक (टिहरी) के सीमांत गांव गंगी को विद्युतीकृत घोषित किया। यहां सौर ऊर्जा के माध्यम से बिजली पहुंचाई गई है। आजादी के 70 साल बाद पहली बार गांव जगमग हुआ तो लोग खुशी से झूम उठे।

सचिव ऊर्जा राधिका झा ने बताया कि दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत अभी तक 37 गांवों में ग्रिड व सौर ऊर्जा के माध्यम से बिजली पहुंचाई गई है। अधिकांश गांव सुदूरवर्ती एवं दुर्गम क्षेत्र में चीन सीमा के निकट के हैं। यहां के घरों में वाय¨रग भी निश्शुल्क की गई है। शेष 33 गांवों के विद्युतीकरण के लिए मार्च, 2018 तक का लक्ष्य रखा गया है। सचिव ऊर्जा ने बताया कि मोरी ब्लॉक (उत्तरकाशी) के 17 गांवों में विद्युतीकरण कार्य शुरू करने की स्वीकृति भी वन्य जीव परिषद से मिल चुकी है। कुछ औपचारिकताएं शेष हैं, जिनके पूरे होते ही कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस