जागरण संवाददाता, देहरादून। Earthquake In Uttarakhand भूकंप के झटकों ने देर रात उत्तराखंड की धरती को हिला दिया। प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। हालांकि, भूकंप का केंद्र ताजिकिस्तान था। जहां भूकंप की तीव्रता 6.3 आंकी गई।

शुक्रवार देर रात करीब साढ़े दस बजे के बाद उत्तराखंड में भूकंप के झटके महसूस किए गए। हालांकि, भूकंप केंद्र दूर होने के कारण यहां ज्यादा हलचल नहीं हुई। रात 10 बजकर 31 मिनट पर ताजिकिस्तान में भूकंप आया। जो कि 6.3 तीव्रता का था। देहरादून समेत ज्यादातर जिलों में हल्के भूकंप के झटके महसूस किए गए। हालांकि, अधिकतर जिला आपदा प्रबंधन केंद्र को त्वरित सूचना नहीं थी। खासकर दुर्गम क्षेत्रों में भूकंप का पता नहीं चला।

 नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी और मौसम विज्ञान केंद्र ने भूकंप की पुष्टि की। हालांकि, देर रात तक उत्तराखंड में भूकंप की तीव्रता नहीं आंकी जा सकी। वहीं, देहरादून, हरिद्वार समेत कुछ अन्य प्रमुख शहरों में भूकंप के झटके महसूस होने के बाद देर रात तक लोग जागते रहे। भूकंप आने के तुरंत बाद नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी की ओर से भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान के फैजाबाद बताया गया और तीव्रता 7.5 बताई गई।

इसके कुछ देर बाद ही सटीक आंकड़े प्राप्त हो गए और केंद्र अफगानिस्तान के पड़ोसी देश ताजिकिस्तान में मिला। उत्तर भारत के अधिकांश हिस्से में झटके महसूस किए गए, लेकिन यहां तीव्रता काफी कम रही। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि भूकंप के हल्के झटके उत्तराखंड में महसूस किए गए। सुबह तक सटीक आंकड़े जारी किए जाएंगे। भूकंप का केंद्र उत्तराखंड से 1200 किलोमीटर से अधिक दूरी पर था।

भूकंप आने पर क्‍या करें।

-भूकंप आने पर खुले मैदान में आ जाएं।

-किसी भी बिल्डिंग के आसपास न खड़े हों।

-लिफ्ट का प्रयोग न करें, सीढ़ियों का प्रयोग करें।

यह भी पढ़ें-Earthquake In Uttarakhand: उत्तरकाशी में महसूस हुए भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 3.3 मापी गई तीव्रता

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Sunil Negi