जागरण संवाददाता, देहरादून। साथियों के साथ जन्मदिन की पार्टी के लिए देहरादून आई हिमालयन अस्पताल जौलीग्रांट की इंटर्न चिकित्सक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। इंटर्न चिकित्सक अपनी सहेलियों के साथ ईसी रोड स्थित एक होटल में ठहरी थी। शनिवार सुबह वह होटल के कमरे में मृत मिली। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी इंटर्न चिकित्सक की मृत्यु की वजह स्पष्ट नहीं हो सकी है। ऐसे में बिसरा सुरक्षित रख लिया गया है।

पुलिस के अनुसार, मूल रूप से सहारनपुर (उत्तर प्रदेश) के झंजेड़ा समस्तपुर की रहने वाली 23 वर्षीय मैत्री हिमालयन अस्पताल जौलीग्रांट से एमबीबीएस करने के बाद यहीं पर इंटर्नशिप कर रही थी। मैत्री के पिता रेलवे में अधिकारी हैं। वर्तमान में उनकी तैनाती भुवनेश्वर (ओडिशा) में है। शुक्रवार को मैत्री का जन्मदिन था। जन्मदिन की पार्टी के लिए वह शाम को तीन सहेलियों के साथ देहरादून पहुंची थी। यहां रात में रुकने के लिए मैत्री और उसकी सहेलियों ने ईसी रोड स्थित एक होटल में कमरा बुक किया था।

मैत्री के साथ दून आई एक सहेली का जन्मदिन शनिवार को था। इसके चलते सहेली का एक दोस्त भी पार्टी में शामिल होने के लिए गुरुग्राम (हरियाणा) से यहां आया था। बताया जा रहा है कि पार्टी करने के लिए सभी एक पब में गए और वहां से देर रात होटल लौटे। होटल के कमरे में पहुंचते ही मैत्री सो गई, मगर अगले दिन सुबह सात बजे तक भी नहीं उठी। जगाने की काफी कोशिश करने के बाद भी शरीर में कोई हलचल नहीं दिखी तो सहेलियां मैत्री को लेकर सीएमआइ अस्पताल पहुंचीं, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। दून अस्पताल पुलिस चौकी की इंचार्ज पुष्पा आर्य ने बताया कि प्राथमिक जांच में मृतका की देह में चोट आदि का कोई निशान नहीं पाया गया।

देर रात हरिद्वार पहुंचे पिता

पुलिस से इस घटना की जानकारी मिलने के बाद मैत्री के पिता भुवनेश्वर से देहरादून के लिए निकल पड़े। शनिवार को देर रात वह हरिद्वार पहुंच गए थे। हरिद्वार में उनके परिचित रहते हैं। ऐसे में शव का पंचायतनामा और पोस्टमार्टम की कार्रवाई रिश्तेदार की उपस्थिति में कराई गई।

यह भी पढें- रात में हंगामा कर रहे युवकों की गुंडागर्दी, पुलिसकर्मियों ने रोका तो कर दी पिटाई, फिर वर्दी भी फाड़ी

Edited By: Raksha Panthri