जागरण संवाददाता, देहरादून: डेगू का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है। ऐसा कोई दिन नहीं जब डेंगू के नए मरीज सामने नहीं आ रहे हैं। मंगलवार को राज्य में डेगू मरीजों की संख्या 13 सौ के आंकड़े को पार कर गई है। मंगलवार जिन 20 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है वह सभी देहरादून के रहने वाले हैं। इस तरह देहरादून में डेगू पीड़ितों की संख्या बढ़कर 821 पहुंच गई है। जबकि नैनीताल में 423, हरिद्वार में 39, ऊधमसिंह नगर में 26, टिहरी में 13 और पौड़ी में एक मरीज को डेंगू का डंक लग चुका है।

डेंगू के बढ़ते मामले देख स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के पसीने छूट रहे हैं। विभागीय अधिकारियों को सूझ नहीं रहा है कि आखिर इस बीमारी की रोकथाम व बचाव के लिए और क्या उपाय अमल में लाए जाएं। ऐसे में अब महकमा भी मौसम के रुख पर निर्भर है। क्योंकि वातावरण में जैसे-जैसे ठंड बढ़ेगी तो डेंगू की बीमारी फैलाने वाले मच्छर एडीज की सक्रियता भी कम होने लगेगी। लेकिन, इससे पहले मच्छर जिस तरह कहर बरपा रहा है वह चिंतनीय है। देहरादून व नैनीताल जनपद में इस बार डेंगू का प्रकोप ज्यादा है। शुरुआती चरण में डेगू का मच्छर एक सीमित क्षेत्र में ही अपना असर दिखा रहा था। लेकिन, पिछले एक माह में तो मच्छर तेजी से पैर पसारे हैं। इससे मैदानी क्षेत्र ही नहीं, बल्कि पहाड़ भी प्रभावित हुआ है। आम हो या फिर खास हर कोई मच्छर की चपेट में आने से नहीं बच रहा है। बीमारी की रोकथाम व बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग व नगर निगम ने जो तैयारियां की हैं वह नाकाफी साबित हो रही हैं। 1141 घरों का सर्वे, 53 में मिला लार्वा

मंगलवार को विभागीय टीमों ने मोथरोवाला, बद्रीश कॉलोनी आदि क्षेत्रों का दौरा किया है। इस दौरान 1141 घरों का सर्वे किया गया। इनमें 53 घरों में डेगू मच्छर का लार्वा मिला है जिसको मौके पर ही नष्ट किया गया। साथ ही लोगों को जानकारी दी गई कि अपने आसपास स्वच्छता बनाए रखें और खाली बर्तनों में पानी जमा नहीं होने दें।

भाजपा नेता भी डेंगू की चपेट में

आम हो या फिर खास हर कोई डेगू की चपेट में है। स्थिति ये आ गई है कि भाजपा के नेता भी अब एडीज मच्छर के डंक से बच नहीं पा रहे हैं। बताया जा रहा है कि भाजपा के प्रदेश महामंत्री राजेंद्र भंडारी समेत पांच-छह अन्य नेताओं को डेंगू हुआ है। प्राथमिक उपचार के बाद सभी नेता घर में आराम कर रहे हैं। जिस तरह भाजपा के कई नेता डेंगू की चपेट में आए हैं उससे माना जा रहा है कि पार्टी के बलबीर रोड स्थित कार्यालय परिसर में भी डेंगू का मच्छर सक्रिय है। वहीं कई विभागों के उच्चाधिकारियों व कर्मचारियों को भी डेंगू का डंक लग चुका है। यहां तक कि अस्पतालों में मरीजों का उपचार करने वाले चिकित्सक व अन्य स्टाफ भी इससे अछूते नहीं हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप