देहरादून, जेएनएन। Dehradun Coronavirus Containment Zone प्रदेशभर के साथ ही दून में भी कोरोना के रफ्तार पकड़ने का क्रम जारी है। इसके साथ ही कंटेनमेंट जोन की संख्या न सिर्फ लगातार बढ़ती जा रही है, बल्कि उसके मुकाबले कम संख्या में कंटेनमेंट जोन समाप्त हो रहे हैं। शनिवार को भी आठ नए कंटेनमेंट जोन बनाए गए और ये सभी दून नगर निगम के अंतर्गत हैं। अब जिले में कंटेनमेंट जोन की संख्या 53 हो गई है।

दून के जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव के आदेश के मुताबिक रेस्ट कैंप रोड (निकट सुंदर रेजीडेंसी), मधुर विहार लेन नंबर-दो (सहस्रधारा रोड), देवऋषि एन्क्लेव गली नंबर 10 (निकट पटेलनगर कोतवाली), विवेकानंद बाल वाटिका क पास नवादा, शांति विहार (अजबपुर कला फेज-एक), दून यूनिवर्सिटी के पास त्रिमूर्ति एन्क्लेव, माता मंदिर रोड स्थित पास बीएसए कार्यालय के पास, सेवलाकला में कृष्ण विहार के एक भाग को कंटेनमेंट जोन बनाया गया।

प्रशासन के अग्रिम आदेश तक यहां के लोग बाहरी क्षेत्र में प्रवेश नहीं कर पाएंगे। जरूरत की वस्तुओं की आपूर्ति जिला प्रशासन सुनिश्चित करेगा। साथ ही यहां कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए एक्टिव सर्विलांस संबंधी कार्य भी किए जाएंगे, जिससे संक्रमण न फैले।

मसूरी में मिले तीन कोरोना पॉजिटिव

मसूरी में शनिवार को तीन नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। संयुक्त सिविल चिकित्सालय के कोविड नोडल अधिकारी डॉ प्रदीप राणा ने बताया कि तीन दिन पूर्व आठ लोगों के आरटीपीसीआर सैंपल लिए गए थे जिसमें से तीन लोग संक्रमित पाए गये जिसमें दो लंढौर क्षेत्र के तथा एक झूलाघर क्षेत्र निवासी है। उन्होंने बताया कि आज भी 40 लोगों के सैंपल लिए गए हैं जिनकी रिपोर्ट एक दिन बाद आएगी। 

यह भी पढ़ें: Coronavirus: कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामले पर हुई रैपिड सेंपलिंग

प्रदेश में 1121 पुलिस कर्मियों की रिपोर्ट पॉजिटिव

उत्तराखंड पुलिस में मार्च से लेकर अब तक 11738 पुलिसकर्मियों के सैपंल जांच के लिए भेजे गए। इसमें से 1121 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनमें से 765 स्वस्थ होकर वापस ड्यूटी पर भी आ चुके हैं। सामान्य सैंपलिंग से इसकी तुलना करें तो स्थिति थोड़ी चिंता बढ़ाने वाली है। दरअसल, सामान्य सैंपलिंग में कोरोना संक्रमित मिलने की दर साढ़े सात फीसदी के करीब है, जबकि पुलिस में अब तक लिए गए सैंपल में से दस फीसदी के करीब की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए चिकित्सक और पैरा मेडिकल स्टाफ ने अस्पतालों में मोर्चा संभाला, तो पुलिस कर्मियों ने राज्य की सीमा से लेकर शहर, गांव के साथ ही कस्बों तक में कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने में अपनी पूरी ताकत झोंक दी। 

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Coronavirus News Update: उत्‍तराखंड में कोरोना के 684 नए मामले आए, 13 संक्रमित मरीजों की मौत

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस