जागरण संवाददाता, देहरादून। Bird Flu Alert उत्तराखंड में बर्ड फ्लू की दस्तक के बाद से अब तक 871 पक्षियों की मौत हो चुकी है, जिनमें सर्वाधिक कौए ही हैं। इनकी संख्या 754 हो गई है। हालांकि, पिछले चार दिन से पक्षियों की मौत के मामलों में कमी आई है। प्रदेश में मंगलवार को कुल 49 पक्षियों की मौत हुई, जिनमें 37 कौए हैं। इसमें भी 32 कौओं की मौत देहरादून वन प्रभाग में हुई है। बीते दिनों की तुलना में यह संख्या कम जरूर है, लेकिन अभी वन विभाग की मुश्किलें कम नहीं हुई हैं।

प्रदेश में कौओं में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है, जबकि अन्य पक्षियों में अभी तक बर्ड फ्लू से मौत का मामला सामने नहीं आया है। हालांकि, एहतियात के तौर पर सभी पक्षियों की निगरानी और सैंपलिंग की जा रही है। अभी तक किसी पोल्ट्री फार्म में भी बर्ड फ्लू के संकेत नहीं मिले हैं। बावजूद इसके पशुपालन विभाग की ओर से सर्विलांस जारी है।

प्रमुख मुख्य वन संरक्षक राजीव भरतरी ने बताया कि पक्षियों की मौत के मामलों में कुछ गिरावट आई है, लेकिन वन विभाग की ओर से पूरी गंभीरता के साथ निगरानी और मृत पक्षियों को डिस्पोज करने का कार्य किया जा रहा है। उधर, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी एसबी पांडे ने बताया कि अभी डोमेस्टिक बर्ड में फ्लू की पुष्टि नहीं हुई है। दून में पोल्ट्री फार्म की कड़ी निगरानी की जा रही है और सख्ती से गाइडलाइन का पालन किया जा रहा है।

प्रदेश में अब तक मृत मिले पक्षी

कौए, 754

कबूतर, 54

मैना, 08

उल्लू, 07

हेरोन, 06

हॉर्नबिल, 05

मोर, 04

स्पॉटेड डोव, 04

गौरेया, 03

चील, 02

ब्ल्यू व्हिशलिंग थ्रश, 02

बतख, 02

तोता, 02

पैराकीट, 02

अन्य पक्षी, 16

यह भी पढ़ें- Bird Flu: उत्तराखंड में परिंदों की मौत का सिलसिला जारी, 142 और पक्षी मृत मिले; सबसे ज्यादा दून में

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021