राज्य ब्यूरो, देहरादून। उपनल कर्मियों के मानदेय बढ़ोतरी पर अब 29 जून को फैसला होगा। सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी की अध्यक्षता में गठित मंत्रिमंडल की उपसमिति की बैठक में विस्तृत-विचार विमर्श के बाद यह निर्णय लिया गया। उन्होंने अगली बैठक में प्रबंध निदेशक उपनल को उपनल कर्मियों की श्रेणीवार पूरी जानकारी लाने को कहा। उन्होंने विभिन्न विभागों से निकाले गए उपनल कर्मियों की सूची भी तलब की है, ताकि उन्हें फिर से तैनात करने का निर्णय लिया जा सके।

सचिवालय में मंगलवार को सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडलीय उपसमिति की बैठक हुई। बैठक में उपनल कर्मियों के मानदेय को बढ़ाने और इससे सरकार पर पड़ने वाले खर्च के संबंध में चर्चा हुई। हालांकि, इस दौरान उपनल कर्मियों का श्रेणीवार आंकड़ा न होने के कारण इसमें आने वाले कुल खर्च का अंदाजा नहीं लगाया जा सका। कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने बताया कि बैठक में कुछ अधिकारियों के न आने और उपनल कर्मियों से संबंधित कुछ आंकड़े पूरे न होने के कारण मंगलवार 29 जुलाई को फिर बैठक बुलाई गई है।

इसमें अधिकारियों से उपनल कर्मियों की श्रेणीवार सूची लाने को कहा गया है। इसके साथ ही उपनल के जरिये तैनात विभिन्न विभागों से निकाले गए कार्मिकों के बारे में भी जानकारी उपलब्ध कराने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि उपनल कर्मी केवल कर विभाग में ही नहीं, अन्य विभागों में भी ऐसे में सभी निकाले गए कार्मिकों का ब्यौरा लाने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि मंगलवार को होने वाली बैठक में मानदेय बढ़ाने के संबंध में निर्णय ले लिया जाएगा। बैठक में मुख्य सचिव ओमप्रकाश, सचिव वित्त अमित नेगी, एल फैनई व एमडीडी उपनल बिग्रेडियर पीपीएस पाहवा (सेवानिवृत्त) भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: भर्ती पिटकुल में निकली, नियुक्ति हुई ऊर्जा निगम में; जानिए पूरा मामला

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Raksha Panthri