जागरण संवाददाता, देहरादून : डीएवी पीजी कॉलेज में बीए प्रथम वर्ष में दाखिले के लिए ऑनलाइन आवेदन करने वाले एक छात्र की ओर से 318 फीसद तक अंक प्राप्त करने का दावा किया गया। ओएमआर सीट में शत फीसद से अधिक अंक प्राप्त करने का दावा केवल बीए में ही नहीं बीएससी एवं बीकॉम में करीब एक दर्जन छात्रों ने किया है, जिसके बाद छात्र नेताओं ने कॉलेज में पहली कटऑफ का विरोध किया और ओएमआर में गलत जानकारी अंकित करने वाले छात्र-छात्राओं के फार्म में त्रुटि सुधार का एक और मौका देने की मांग की। जिस पर कॉलेज प्रशासन ने ऑनलाइन फार्म में त्रुटि सुधार के लिए रविवार एवं सोमवार का समय दिया। अब मंगलवार को संशोधित कटऑफ कॉलेज की वेबसाइट पर अपलोड का दी जाएगी। प्राचार्य डॉ. अजय सक्सेना ने कहा कि यदि किसी छात्र ने ऑनलाइन दाखिला फार्म व ओएमआर सीट में अपने प्राप्तांक में संशोधन किया है तो उसे स्वीकार कर लिया जाएगा और संबंधित छात्र को मेरिट पर उसके संशोधित प्राप्तांक के आधार पर स्थान दिया जाएगा, यदि किसी भी छात्र की ओर से ओएमआर में संशोधन नहीं किया गया होगा, तो जो पहली जारी कटऑफ है उसे ही दोबारा कॉलेज की वेबसाइट पर जारी कर दिया जाएगा।

कॉलेज खुला नहीं छात्र गुटों में झगड़े शुरू

डीएवी पीजी कॉलेज ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद 11 जुलाई को विधिवत रूप से खुलेगा। इस बीच पिछले एक पखवाड़े से कॉलेज में स्नातक कक्षाओं में दाखिला लेने वाले ऐसे नए छात्र कॉलेज पहुंच रहे हैं। इस दौरान पुराने छात्र एवं छात्र नेता भी वहां अपनी राजनीति चमकाने के लिए पहुंच रहे हैं। हालांकि इस दौरान कई छात्र गुटों में कई बार विवाद की स्थिति और मारपीट भी हो चुकी है। जिससे अन्य छात्रों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस