जागरण संवाददाता, देहरादून। Cyber Crime In Uttarakhand वित्तीय साइबर मामलों में पीड़ित को तुरंत राहत दिलाने के लिए शुरू किए ई-सुरक्षा चक्र के हेल्पलाइन नंबर 155260 पर दो दिनों में ही प्रदेश भर से 60 शिकायतें पहुंच गई हैं। साइबर थाना पुलिस ने 3,45,251 रुपये वापस करवाए, जबकि 4,43,304 रुपये होल्ड कराए गए हैं। डीआइजी एसटीएफ नीलेश आनंद भरने ने बताया कि साइबर ठगी के मामलों में पीडि़तों का पैसा सुरक्षित रहे इसलिए 17 जून को हेल्पलाइन नंबर जारी की गई थी। हेल्पलाइन में दो दिनों में 63 शिकायतें मिली जिनमें से 30 काल वित्तीय साइबर धोखाधड़ी से संबंधित हैं।

शिकायत करने वाले पीड़ित गगन अरोड़ा निवासी देहरादून के 78,251 रुपये, वंदना खुल्बे निवासी दुर्गापुरी रामनगर नैनीताल के 41 हजार, जगदीश चंद्र निवासी लालपुर रुद्रपुर के एक लाख, हरपाल सिंह निवासी ग्राम मिलौया ऊधमसिंहनगर के 41 हजार, नासिर हुसैन निवासी किच्छा ऊधमसिंहनगर के 40 हजार, अखिलेश यादव निवासी शिमला बहादुर रोड रुद्रपुर के 30 हजार, परमजीत सिंह निवासी देहरादून के 10 हजार, इंतजार निवासी देहरादून के तीन हजार, प्रवेश रावत निवासी पौड़ी गढ़वाल के दो हजार कुल 3,45,251 रुपये वापस करवाए।

उन्होंने बताया कि विभिन्न बैंक व वालेट में 4,43,304 रुपये होल्ड कराए गए हैं, जिनकी वापसी की कार्रवाई चल रही है। एसएसपी अजय सिंह ने कहा कि पीड़ित को वित्तीय साइबर ठगी की सूचना तुरंत हेल्पलाइन नंबर पर देनी होगी, जिसके बाद ई- सुरक्षा चक्र कंट्रोल रूप से तत्काल इस सूचना को गृह मंत्रालय के राष्ट्रीय अपराध ब्यूरो पोर्टल पर दर्ज की जाएगी। सूचना दर्ज होने के बाद गृह मंत्रालय से पीड़ित को एक लिंक एसएमएस के माध्यम से भेजा जाएगा। पीड़ित की ओर से इस लिंक पर अपनी शिकायत 24 घंटे के अंदर पोर्टल पर दर्ज करवानी होगी।

यह भी पढ़ें-  Dehradun Crime: दून में किटी के नाम पर दंपती ने हड़पे सवा लाख रुपये, मुकदमा दर्ज

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Raksha Panthri