जागरण संवाददाता, ऋषिकेश : क्रिकेट की दुनिया में सर्वश्रेष्ठ फिल्डिग के लिए पहचान रखने वाले दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेटर जोंटी रोड्स ने अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव में योग साधकों को फिटनेस के टिप्स दिए। उन्होंने कहा कि जीवन में अनुशासन का होना बेहद जरूरी है।

उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद व गढ़वाल मंडल विकास निगम की ओर से आयोजित अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव में मंगलवार को क्रिकेटर जोंटी रोड्स ने योग साधकों का मार्गदर्शन किया। मुनिकीरेती योगा घाट पर बने पांडाल में सैकड़ों युवाओं और योग साधकों को फिट रहने के टिप्स दिए। रोड्स ने कहा कि क्रिकेट व अन्य खेलों में फिटनेस की बहुत आवश्यकता होती है। इसके लिए योगाभ्यास व फिजिकल फिटनेस जरूरी है। एक अच्छे क्रिकेटर के बाजुओं में जहां असीमित ताकत की जरूरत होती है वहीं बल्लेबाज को गेंद के साथ समयबद्ध तरीके से टाइमिग की आवश्यकता होती है, जो कि निरन्तर अभ्यास से प्राप्त की जा सकती है। उन्होंने कहा कि भारतीय योग का महत्व व उपयोगिता आज पूरा विश्व समझ रहा है। भारत की धरती से गहरा जुडाव दर्शाते हुए उन्होंने कहा कि उनके दोनों पुत्र भारत में पैदा हुए। उन्होंने बताया कि जीवन में अनुशासन बेहद जरूरी है। उनके पिता, जोकि एक अध्यापक थे, उन्होंने बचपन से ही उन्हें कडे अनुशासन में रहने की सीख दी। उन्होंने धूमपान को स्वास्थ्य के लिए घातक बताते हुए युवाओं से धूमपान से दूर रहने की अपील की। इससे पूर्व सीडीओ देहरादून रितिका खंडेलवाल ने क्रिकेटर जोंटी रोड्स का स्वागत किया। इस अवसर पर जीएमवीएन की प्रबंध निदेशक ईवा आशीष श्रीवास्तव भी मौजूद थी।

Edited By: Jagran