राज्य ब्यूरो, देहरादून। Covid Curfew In Uttarakhand कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रथम चरण में 18 मई तक घोषित कोविड कर्फ्यू को लेकर सोमवार को गफलत की स्थिति भी बनी रही। सरकार ने सोमवार को एक बजे तक आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली रखने और इसके बाद कोविड कर्फ्यू प्रभावी होने के निर्णय की जानकारी दी थी। बावजूद इसके शासन ने कर्फ्यू के लिए जो मानक प्रचालन कार्यविधि (एसओपी) जारी की, उसमें कर्फ्यू 11 मई की सुबह छह बजे से प्रभावी होने का उल्लेख कर दिया। हालांकि, मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने स्पष्ट किया कि कोविड कर्फ्यू सोमवार दोपहर एक बजे से प्रभावी हो गया है।

सरकार ने सप्ताहभर पहले कोरोना संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित जिलों देहरादून, हरिद्वार और ऊधमसिंहनगर के साथ ही कुछ संवेदनशील क्षेत्रों में कोविड कर्फ्यू लागू किया था। इसके बाद अन्य जिलों में जिलाधिकारियों ने अपने-अपने क्षेत्रों के नगर निकायों और कस्बों में भी 10 मई की सुबह पांच बजे तक कोविड कर्फ्यू घोषित कर दिया था। इस बीच सरकार ने बीते रोज कोविड कर्फ्यू से संबंधित सभी आदेशों को अतिक्रमित कर संपूर्ण राज्य में 18 मई तक कोविड कर्फ्यू को नए प्रतिबंधों के साथ सख्ती से लागू करने का निर्णय लिया। साथ ही यह तय किया गया कि जनता की सुविधा के लिए सोमवार को परचून समेत आवश्यक सेवाओं की दुकानें दोपहर एक बजे तक खुली रखी जाएंगी। 

इसके बाद कोविड कर्फ्यू लागू हो जाएगा। बाद में शासन द्वारा कोविड कर्फ्यू के संबंध में जारी एसओपी में सोमवार को सुबह छह से दोपहर एक बजे तक आवश्यक सेवाओं की दुकानें खुली रखने का जिक्र तो हुआ, मगर कर्फ्यू के 11 मई सुबह छह बजे से 18 मई सुबह छह बजे तक प्रभावी होने का उल्लेख भी कर दिया गया। ऐसे में सवाल उठना लाजिमी था कि क्या सोमवार सुबह पांच बजे से मंगलवार सुबह छह बजे तक कर्फ्यू नहीं है। हालांकि, सरकार के प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने भी साफ किया कि कर्फ्यू सोमवार एक बजे से प्रभावी हो गया है। उन्होंने कहा कि कोविड कर्फ्यू को पूरी सख्ती से लागू किया जाएगा।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में दस मई से सख्त कोविड कर्फ्यू, जानें- कितने घंटे खुलेंगी दुकानें और क्या है पूरी गाइडलाइन

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें