विकासनगर(देहरादून), जेएनएन। देहरादून के विकासनगर कोतवाली क्षेत्र की एक बस्ती में निजामुद्दीन दिल्ली मरकज में तब्लीगी जमात के जलसे से एक शख्स लौटा, जिसके बीमार होने की सूचना मिलते ही पुलिस-प्रशासन में हड़कंप मच गया। 30 मार्च को जमात से लौटा यह व्यक्ति नगर के अस्पताल रोड पर फल बेच रहा था। 

बुधवार को मामला संज्ञान में आने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जांच की तो वह बीमार मिला। कोरोना वायरस संक्रमण की आशंका होने पर चिकित्सकों ने उसे उप जिला चिकित्सालय विकासनगर के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर लिया है। चिकित्सकों ने सैंपल लेकर जांच के लिए दून अस्पताल भेजे हैं।

दरअसल, विकासनगर क्षेत्र की एक बस्ती का 38 वर्षीय युवक दो मार्च को दिल्ली निजामुददीन मरकज में तब्लीगी जमात के जलसे में गया था। वहां पर कुछ दिन रहने के बाद वह भोपाल की जमात में चला गया, जहां से वह तीस मार्च को वापस विकासनगर आया था। जमात से आने के बाद से ही उसकी तबीयत खराब है, लेकिन उसने किसी को इसकी सूचना नहीं दी। यही नहीं वह अस्पताल रोड पर फल की ठेली भी लगा रहा था। मोहल्ले के कुछ लोगों ने इस बात की सूचना पुलिस-प्रशासन को दी, तो उनमें हड़कंप मच गया। 

यह भी पढ़ें: Coronavirus: हरिद्वार में 11 और संदिग्ध मरीज आइसोलेशन वार्ड में भर्ती

मामला संज्ञान में आते ही पुलिस के साथ स्वास्थ्य विभाग की टीम जमात से लौटे व्यक्ति को अस्पताल ले आयी, जहां पर जांच में कोरोना वायरस जैसे लक्षण मिले। बीमार व्यक्ति को अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया। अस्पताल के नोडल अधिकारी डॉ. प्रदीप चौहान के अनुसार दिल्ली निजामुद्दीन मरकज में जमात से लौटे व्यक्ति के सैंपल लेकर जांच को दून अस्पताल भेजे गए हैं। फिलहाल उसे आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है।

यह भी पढ़ें: Coronavirus: हरिद्वार में अब तक 62 की कोरोना जांच रिपोर्ट नेगेटिव

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस