राज्य ब्यूरो, देहरादून

प्रदेश कांग्रेस महंगाई, भ्रष्टाचार व कानून-व्यवस्था समेत तमाम मुद्दों को लेकर सरकार को घेरेगी। इसके लिए सोमवार को प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से कांग्रेसी कार्यकर्ता देहरादून के गांधी पार्क में एकत्र होकर सरकार के खिलाफ धरना देंगे। प्रदेश कांग्रेस इस समय विभिन्न मुद्दों को लेकर प्रदेश सरकार के खिलाफ मुखर हो रही है। हाल ही में बाजपुर और श्रीनगर नगर पालिकाओं के चुनाव में मिली जीत से उत्साहित कांग्रेस अब पंचायत चुनावों से पहले अपने पक्ष में माहौल बनाने की तैयारी कर रही है। इस कड़ी में सोमवार को देहरादून में प्रदेश स्तरीय आंदोलन के तहत धरना देने का एलान किया गया है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि महंगाई, पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों, गैरसैंण में भूमि खरीद पर लगी रोक हटाने, पंचायती राज एक्ट के विरोध, बेरोजगारी, आंदोलनकारियों पर दर्ज मुकदमें वापस लेने, कानून-व्यवस्था, भ्रष्टाचार और राफेल खरीद के मुद्दे पर आंदोलन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बरसात को देखते हुए दूरदराज के कार्यकर्ताओं को इस धरना कार्यक्रम से छूट दी गई है। पार्टी के शेष नेता धरना स्थल पर उपस्थित रहेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा को अब हर बात पर कांग्रेस के सिर ठीकरा फोड़ने की बजाए अपनी जिम्मेदारी लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पार्टी का प्रदर्शन लोकसभा चुनाव में अच्छा नहीं रहा लेकिन बाजपुर और श्रीनगर में जनता ने कांग्रेस प्रत्याशियों को जिताकर भाजपा सरकार के प्रति अपने आक्रोश को प्रकट किया है। कांग्रेस भी जनभावना के साथ चलते हुए प्रदेश सरकार को घेरेगी। सत्ता में आई तो गैरसैंण पर लेंगे ठोस निर्णय

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि गैरसैंण के मसले पर अब निर्णय लेने का समय आ गया है। कांग्रेस यदि सत्ता में आई तो वह गैरसैंण के मसले पर स्पष्ट निर्णय लेगी। कांग्रेस का निर्णय क्या होगा, इस सवाल पर कांग्रेस अध्यक्ष ने कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया लेकिन उन्होंने यह जरूर कहा कि वह इस मसले को अब दूसरों पर नहीं छोड़ेंगे।

अंदरूनी गुटबाजी पर दी नसीहत

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने पार्टी के भीतर चल रही गुटबाजी पर पार्टी कार्यकर्ताओं को एक दूसरे के खिलाफ बयानबाजी न करने की नसीहत दी। उन्होंने कहा कि ऐसा करने से पार्टी का नुकसान होता है और कार्यकर्ताओं को इससे बचना चाहिए।

लक्ष्मणझूला पुल बंद करने पर सरकार को घेरा

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने ऋषिकेश का लक्ष्मणझूला पुल बंद किए जाने के मसले पर प्रदेश सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि बिना वैकल्पिक व्यवस्था किए सरकार को यह कदम नहीं उठाना चाहिए था। इससे लोगों को अकारण परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सरकार को जल्दबाजी में निर्णय लेने की बजाए इसके विकल्प की ठोस व्यवस्था करनी चाहिए थी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप